बंगाल की तुलना में बिहार, झारखंड और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में हुई ज्यादा हिंसा

फोटो, साभार : गूगल

कोलकाता : राज्य में कोरोना के कहर के बीच भाजपा औऱ तृणमूल में रार जारी है। इस बीच तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी ने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर पलटवार करते हुए कहा कि राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों के अनुसार पश्चिम बंगाल की तुलना में बिहार, झारखंड और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में साम्प्रदायिक और राजनीतिक हिंसा की घटनाएं कहीं अधिक हुई हैं।

दरअसल शाह ने शनिवार को कहा था कि पश्चिम बंगाल की राजनीति में हिंसा एक ‘शिष्टाचार’ बन गया है और अब राज्य में ‘‘बदलाव का वक्त’’ आ गया है। शाह के इस बयान कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकाल में पश्चिम बंगाल में हिंसा की घटनाएं अधिक हुई हैं, बनर्जी ने कहा कि बिहार, झारखंड और महाराष्ट्र में कौन सत्ता में है।

बनर्जी ने ट्वीट किया,‘‘एनसीआरबी के 2018 के आंकड़ों के अनुसार पश्चिम बंगाल की तुलना में बिहार में सांप्रदायिक और राजनीतिक हिंसा की घटनाएं लगभग 315 प्रतिशत अधिक, झारखंड में 245 प्रतिशत अधिक, महाराष्ट्र में 193 प्रतिशत अधिक, मध्य प्रदेश में 180 प्रतिशत अधिक और गुजरात में 52 प्रतिशत अधिक थीं।

उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में इस तरह की 46 घटनाएं हुईं वहीं बिहार में 191, झारखंड में 159, महाराष्ट्र में 135, मध्य प्रदेश में 129 और गुजरात में 70 घटनाएं हुईं। गौरतलब है कि शाह ने एक साक्षात्कार में कहा था कि पश्चिम बंगाल की राजनीति में हिंसा एक ‘शिष्टाचार’ बन गया हैं और अब राज्य में ‘‘बदलाव का वक्त’’ आ गया है। भाजपा 2021 में पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में ‘‘जीतने जा रही है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 5 =