Home साहित्य

साहित्य

राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना की वार्षिक बैठक सम्पन्न हुई

0
उज्जैन । राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना की वार्षिक बैठक राष्ट्रीय अधिवेशन (साधारण सभा) पूर्व निर्धारित दिनांक 26 जून 22 को राष्ट्रीय अध्यक्ष ब्रजकिशोर शर्मा की...

डीपी सिंह की रचनाएं

0
 ।।महाराष्ट्र स्पेशल।। लालच में तो जयचन्द बने, बेच दी हया अब नाम नगर का है रखा जा रहा नया उँगली में चुभा कर सुई बनते हैं वो...

साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली ने रचनाकारों को विद्या वाचस्पति मानद उपाधि से किया...

0
जबलपुर । साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली द्वारा जबलपुर, मध्यप्रदेश में होटल दत्त रेजीडेंसी में शनिवार को आयोजित महाकाव्यमेध सम्मान समारोह में 15 रचनाकारों...

बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन की जयंती एवं सम्मान-समारोह संपन्न

0
पटना । डॉ. दीनानाथ शरण मनुष्यता और जीवन-मूल्यों के कवि और मनीषी समालोचक थे। एक सजग कवि के रूप में उन्होंने पीड़ितों को स्वर...

मैं बिहार हूँ

0
श्री रामपुकार शर्मा, हावड़ा । मैं, बिहार हूँ। मैं, देवनदी गंगा, यमुना, सरस्वती, नर्मदा, गोदावरी, कावेरी, महानदी के पवित्र जल से सिंचित, श्रीराम, श्रीकृष्ण...

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस

0
विनय सिंह बैस, नई दिल्ली । जंबूद्वीप भारत खंड के उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले के बरी नामक गांव में एक बार भागवत कथा...

डीपी सिंह की रचनाएं

0
पूरा घर-परिवार जहाँ खोया था जग की माया में पालन सृजन सुरक्षा सबको मिली वहाँ इक छाया में कोई और नहीं थे, काशी मथुरा चारो धाम...

कहता है श्याम कुमार राई “सलुवावाला’

0
।।मेरे देश की कुर्सी।।  आजकल मेरे देश की कुर्सी थरती से भी अधिक उपजाऊ हो गई है ये कुर्सी फकत सोना-चांदी, हीरे-मोती ही नहीं बेशकीमती गाड़ी आलीशान कोठी-बंगला ताकत, रूतबा, शानोशौकत और आने वाली दसियों पीढ़ी के लिए ऐयाशियों का...

साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली ने कलावती करवा को विद्या वाचस्पति मानद उपाधि से...

0
जबलपुर । साहित्य संगम संस्थान (रजि.) नई दिल्ली द्वारा जबलपुर मध्यप्रदेश की होटल दत्त रेजीडेंसी में आयोजित महाकाव्यमेध सम्मान समारोह में 15 रचनाकारों को...

डीपी सिंह की कुण्डलिया

0
निसि दिन माया-योग से, लगते नाना रोग वहीं रोग के भोग से, मुक्त कराता योग मुक्त कराता योग, दवा से टूटे नाता काया स्वस्थ निरोग, शान्ति मन...

विशेष

युवा मंच