अखिल भारतीय कला शिविर में भाग लेंगे लखनऊ के भूपेंद्र अस्थाना व संजय राज

सबसे प्राचीन भारतीय तीर्थ स्थल काशी में “मध्यम- अक्षय कलायात्रा-2” 17 जुलाई से पाँच दिवसीय

रविवार : सोमवार के पहले और शनिवार के बाद आने वाला दिन

डॉ. आर. बी. दास, पटना। सूर्य का दिन “रविवार” नाम हेलेनिस्टिक ज्योतिष से लिया गया

झारखंड में फिल्म विकास की असीम संभावनाएं हैं..! अभिनेता राजन कुमार

काली दास पाण्डेय, मुंबई। ‘शहर मसीहा नहीं’, ‘नमस्ते बिहार’ जैसी कई हिंदी फिल्मों में काम

विनय सिंह बैस की कलम से- भाई बाबा

विनय सिंह बैस, रायबरेली। मेरे बाबा (दादा) का नाम श्री हौसिला बख्स सिंह था। लेकिन

अब होगा उत्तर प्रदेश की लोककलाओं का संरक्षण

• एफओएपी और फोकार्टोपीडिया के बीच हुआ समझौता • लोक-संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्धन हेतु

पुनर्मूषको भव!

विनय सिंह वैस, नई दिल्ली। ज्यादातर छात्र चाहते हैं कि वह अपने शिक्षकों की ‘गुड

भरत-चरित्र पावन भ्रात-पद

‘भरत चरित करि नेमु, तुलसी जो सादर सुनहिं। सीय राम पद पेमु, अवसि होई भव

आशा विनय सिंह बैस की कलम से : हमारा समर हॉलीडे

आशा विनय सिंह बैस, रायबरेली। यह उन दिनों की बात है जब ‘हॉलीडे होमवर्क’ जैसी

विशाल की श्रेष्ठ कहानी : “जीने की वजह”

 “जीने की वजह” सुबह उठा तो धूप खिल चुकी थी। चाय की चुस्की के बाद

वास्तुकला प्रदर्शनी : वास्तुकला के छात्रों की असाधारण प्रतिभा और समर्पण का प्रमाण

वास्तुकला संकाय में दो दिवसीय वास्तुकला प्रदर्शनी “संग्रह” का हुआ भव्य शुभारम्भ लखनऊ। वास्तुकला एवं