सैयद मोदी इंटरनेशनल ने खत्म किया सिंधु के खिताब का इंतजार

लखनऊ। ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु का खिताब के लिये दो साल का लंबा इंतजार रविवार को नवाब नगरी लखनऊ में खत्म हो गया जब उन्होंने सैयद मोदी इंडिया इंटरनेशनल बैडमिंटन चैंपियनशिप एचएसबीसी वर्ल्ड टूर सुपर 300 में महिला एकल के फाइनल में हमवतन मालविका बंसोड के खिलाफ आसान जीत दर्ज की। बाबू बनारसी दास यूपी बैडमिंटन अकादमी में खेली जा रही 1,50,000 अमेरिकी डालर की ईनामी राशि वाली चैंपियनशप के महिला एकल के फाइनल में सिंधु आज पूरी लय में दिखायी दी। उन्होने मात्र 35 मिनट के खेल में बंसोड को 21-13, 21-16 से हरा कर खिताब की ज्वाला को शांत किया।

नागपुर की 20 साल की खिलाड़ी मालविका के पास सिंधु के स्मैश शाट का कोई जवाब नहीं था। सिंधु ने अपनी लंबाई का फायदा उठाते हुए कई शानदार स्मैश शॉट खेले और एक के बाद एक अंक अर्जित करते हुये पहले गेम में 7-0 की बढ़त बनाई। इस बीच मालविका ने भी एक अंक जुटाया लेकिन वापसी करते हुए सिंधु ने ब्रेक तक 11-1 की बढ़त बना ली। ब्रेक के बाद पीवी सिंधु ने शानदार कोर्ट कवरेज की बदौलत अंक जुटाने शुरू किए। सिंधु जब 17-8 से आगे थी तभी मालविका ने लगातार तीन अंक जुटाए।

बाद में सिंधु ने लगातार तीन अंक जुटाते हुए 20-11 के स्कोर पर गेम प्वाइंट बनाया लेकिन मालविका ने न सिर्फ गेम प्वाइंट बचाया बल्कि एक अंक बनाते हुए स्कोर 20-13 किया मगर वह गेम को बचा नहीं सकी और सिंधु ने 21-13 से जीत दर्ज की। दूसरे गेम में पी सिंधु के शुरुआती अंक जुटाने के बाद मालविका ने बराबरी की। बाद में सिंधु ने हावी होते हुये ब्रेक तक 11-4 की बढ़त बनाई। बाद में मालविका ने सिंधु के सामने मामूली चुनौती पेश की मगर सिंधु ने लय में खेलते हुये स्कोर 20-15 किया।

हालांकि मालविका ने गेम प्वाइंट बचाया लेकिन अगली ही सर्विस पर पीवी सिंधु ने गेम प्वाइंट बचा लिया।
पीवी सिंधु का सैयद मोदी इंडिया इंटरनेशनल बैडमिंटन टूर्नामेंट में दूसरा खिताब है। इससे पहले पीवी सिंधु ने 2017 में इस चैंपियनशिप का खिताब जीता था। इसके साथ ही पीवी सिंधु ने अपना खिताबी सूखा भी खत्म कर लिया है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven − 2 =