नागदा म.प्र. । राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना का 202वाँ क्रमांक की आभासी संगोष्ठी पावस ऋतु पर काव्य गोष्ठी में वर्षा ऋतु एवं वृक्षारोपण के संदर्भ में संगोष्ठी काव्य पाठ का आयोजन आभासी पटल पर दिनांक 17 जुलाई रविवार सायं 5 बजे आयोजित होगी। यह जानकारी राष्ट्रीय महासचिव एवं आयोजक डॉ. प्रभु चौधरी ने देते हुए बताया कि संस्था के मार्गदर्शक डॉ. हरिसिंह पाल (महामंत्री, नागरी लिपि परिषद, नई दिल्ली) का जन्मोत्सव एवं संगोष्ठी होगी।

समारोह के मुख्य अतिथि डॉ. विनय पाठक (पूर्व अध्यक्ष राजभाषा आयोग छत्तीसगढ़) विशिष्ट अतिथि ब्रजकिशोर शर्मा (अध्यक्ष राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना), मुख्य वक्ता डॉ. शैलेन्द्रकुमार शर्मा (अध्यक्ष कला संकाय एवं हिन्दी विभाग विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन) एवं अध्यक्षता डॉ. शहाबुद्दीन शेख (राष्ट्रीय मुख्य संयोजक) करेगें। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि सुवर्णा जाधव (राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष), विशिष्ट वक्ता डॉ. रश्मि चौबे (राष्ट्रीय महासचिव इकाई महिला), डॉ. अनसूया अग्रवाल (राष्ट्रीय संयोजक), डॉ. दीपिका सुतोदिया (राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष), डॉ. सुनीता मंडल (राष्ट्रीय उपाध्यक्ष), राकेश छोकर (राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष), डॉ. रजिया शेख (राष्ट्रीय उपाध्यक्ष), सोनिया शर्मा (प्रदेशाध्यक्ष दिल्ली), प्रभा शर्मा (राष्ट्रीय सचिव), सुनीता राठौर (प्रदेश उपाध्यक्ष म.प्र.) रहेंगे।

कविता पाठ हेमा पाण्डेय, उपमा आर्य, सुशीला पाल, रोहिणी डावरे, साधना शर्मा, अर्चना लवानिया, अर्पणा जोशी करेंगी।
कार्यक्रम के आयोजक पुष्पा गरोठिया (राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महिला), सह आयोजक सीमा निगम (प्रदेशाध्यक्ष महिला छत्तीसगढ), संयोजक मणिमाला शर्मा (प्रदेशाध्यक्ष महिला), सहसंयोजक ज्योति जलज (प्रदेशाध्यक्ष म.प्र.), डॉ. शहनाज शेख (स्वागताध्यक्ष) दीपिका कटरे (राष्ट्रीय सचिव), भुवनेश्वरी जायसवाल (कार्यालय सचिव) है। संचालन डॉ. मुक्ता कौशिक करेगी एवं आभार पूर्णिमा कौशिक का रहेगा।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × 4 =