ममता की दहाड़, सरकार के खिलाफ संसद से सड़क तक लड़ती रहूंगी

कोलकाता : कृषि बिलों पर चर्चा के दौरान राज्यसभा में हंगामे को लेकर विपक्षी दलों के 8 सांसदों को निलंबित किए जाने के कदम का बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कड़ा एतराज जताया है। ममता ने इसको लेकर सोमवार को जमकर बरसते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने लोकांत्रिक मानदंडों व सिद्धांतों का सम्मान नहीं किया है।

ममता ने ट्वीट किया, ‘किसानों के हितों की रक्षा के लिए लड़ने वाले 8 सांसदों का निलंबन दुर्भाग्यपूर्ण और चिंतनशील है। यह कदम सरकार की मानसिकता को दर्शाता है कि वह लोकतांत्रिक मानदंडों और सिद्धांतों का सम्मान नहीं करते हैं।

हम रुकेंगे नहीं, हम ऐसे ही संसद से लेकर सड़कों तक इस फासीवादी सरकार के खिलाफ लड़ते रहेंगे।’ उल्लेखनीय है कि निलंबित किए गए सांसदों में कांग्रेस के तीन, तृणमूल कांग्रेस और सीपीआइएम के दो- दो और आम आदमी पार्टी के एक सदस्य शामिल हैं। तृणमूल कांग्रेस के जिन दो सदस्यों को निलंबित किया गया है उनमें डेरेक ओ ब्रायन और डोला सेन हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 3 =