आजादी के अमृत महोत्सव में मातृशक्ति सम्मान समारोह में महिलाओं का हुआ अभिनंदन

उज्जैन । राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के 10वें वर्ष में मातृशक्ति सम्मान समारोह में आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर मालवा प्रांत की शिक्षा, साहित्य, संस्कृति एवं समाजसेवा में सक्रिय महिलाओं को मातृशक्ति सम्मान से भव्य समारोह में भारतीय नववर्ष पर शासकीय शिक्षा महाविद्यालय में 3 अप्रेल को अभिनंदन पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर राष्ट्रीय संगोष्ठी एवं काव्य गोष्ठी भी सम्पन्न हुई। यह जानकारी देते हुए राष्ट्रीय महासचिव डॉ. प्रभु चौधरी ने बताया कि मातृशक्ति सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि सुरेशचन्द्र शुक्ल (ओस्लो नार्वे), प्रमुख अतिथि हरेराम वाजपेयी (अध्यक्ष हिन्दी परिवार इन्दौर), विशिष्ट अतिथि डॉ. देवेन्द्र जोशी (पत्रकार-वरिष्ठ साहित्यकार)

डॉ. संतोष पंड्या (निदेशक संस्कृत कालिदास अकादमी उज्जैन), मुख्य वक्ता डॉ. शैलेन्द्रकुमार शर्मा (अध्यक्ष कला संकाय, कुलानुशासक विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन) एवं अध्यक्षता ब्रजकिशोर शर्मा (अध्यक्ष राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना) तथा विशिष्ट अतिथि जीवन प्रकाश आर्य (अध्यक्ष आर्य समाज उज्जैन) एवं डॉ. शीला कुशवाह (शीलेश्वरी देवी) उपस्थित रहे। संगोष्ठी का विषय – ‘‘मातृवंदना धर्म, अध्यात्म, विज्ञान के परिप्रेक्ष्य में‘‘ में आयोजित की गई। काव्य गोष्ठी-‘‘नारी जागरण : मातृवंदना एवं भारतीय संस्कृति‘‘ पर हुई।

समारोह का शुभारंभ अतिथियो ने सरस्वती पूजन एवं दीपदीपन से किया। प्रस्तावना डॉ. प्रभु चौधरी (राष्ट्रीय महासचिव उज्जैन) अतिथि परिचय आयोजक प्रभा बैरागी ने दिया। स्वागत भाषण डॉ. रश्मि श्रीवास्तव ने दिया। कार्यक्रम में अतिथियो का स्वागत सह आयोजक प्रगति बैरागी, संयोजक डॉ. इन्दु सिन्हा, सह संयोजक हेमलता शर्मा एवं स्वागताध्यक्ष हेमलता तोमर ने किया, अतिथियो का उद्बोधन एवं अध्यक्षीय भाषण के पश्चात् अभिनंदन पत्र देकर सम्मान एवं स्वागत किया।समारोह का संचालन डॉ. सुनीता आशापुरे ने एवं आभार प्रदर्शन डॉ. मनीषा ठाकुर ने किया।
समारोह में मातृशक्ति सम्मान से डॉ. रश्मि श्रीवास्तव, डॉ. शीलेश्वरी देवी, प्रभा बैरागी, मणिमाला, शीतल राघव।

मनोरमा जोशी, प्रभा तिवारी, ज्योति ठाकुर, डॉ. दविन्दर कौर होरा, डॉ. सीमा जोशी, निर्मला रावल, जया पाण्डे, हेमा अग्रवाल, नरगिस खान, संगीता आशापुरे, सुषमा शुक्ला, डॉ. अमृता अवस्थी, संगीता श्रीवास्तव, निशा पंडित, डॉ. विद्या जोशी, आशा जवेरिया, सरोज निम, ब्रजबाला गुप्ता, कल्पना शाह, ज्योति जलज, ज्ञानेश्वरी शिन्दे, संध्या शिवहरे, डॉ. मनीषा ठाकुर, डॉ. मनोरमा जैन, हेमलता शर्मा, हेमलता तोमर, परवीन शेख, डॉ. इन्दु सिन्हा, डॉ. हीना तिवारी, दाखा कारपेन्टर, डॉ. रूचिता साकोरीकर, लेखराज शिवहरे, प्रगति बैरागी आदि 50 महिलाओं को सम्मानित किया गया।

राष्ट्रीय काव्य गोष्ठी समारोह की मुख्य अतिथि रतलाम की डॉ. इन्दु सिन्हा, विशिष्ट अतिथि निर्मला रावल नागदा, संगीता श्रीवास्तव, शीलेश्वरी देवी उज्जैन, सुषमा शुक्ला इन्दौर, कल्पना शाह कुक्षी, प्रतिभा मिश्रा, डॉ. प्रभु चौधरी तथा अध्यक्षता ज्योति जलज (प्रदेशाध्यक्ष) ने की। अतिथियों का स्वागत डॉ. शीतल देवयानी, अतिथि परिचय प्रगति बैरागी, संचालन प्रभा बैरागी एवं आभार प्रदर्शन हेमलता तोमर कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष नागदा ने किया। गोष्ठी में कविता पाठ प्रभा तिवारी, डॉ. मनोरमा जैन, सुषमा शुक्ला, डॉ. इन्दु सिन्हा, ज्योति जलज, सीमा जोशी, ज्ञानेश्वरी शिन्दे, रश्मि श्रीवास्तव, मणिमाला शर्मा, ज्योति ठाकुर, शीतल राघव, डॉ. जयकांत शर्मा, विमल जैन, सुरेशचन्द्र शुक्ल आदि ने राष्ट्रीय एवं मातृवंदना प्रस्तुत की। समारोह में डॉ. राजेश साकोरीकर, डॉ. निशार फारूकी, बलवंत सिंह सहित सभी पदाधिकारीगण उपस्थित रहे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 1 =