कोलकाता। पश्चिम बंगाल उच्च माध्यमिक शिक्षा परिषद (डब्ल्यूबीसीएचएसई) ने कक्षा 11 में छात्रों के विज्ञान आधारित वैकल्पिक विषय लेने के लिए कुछ विषयों में कट-ऑफ को घटाकर 35 प्रतिशत कर दिया है। संबंधित अधिकारियों द्वारा इस संबंध में जारी नोटिस से यह जानकारी मिली है। अंकों का न्यूनतम प्रतिशत 45 फीसदी से कम कर दिया गया है। शनिवार को जारी नोटिस के अनुसार, ”निर्देशों के तहत परिषद एक विषय में न्यूनतम प्रतिशत अंकों के मानदंड को प्रकाशित कर रही है, जिसके मुताबिक एक छात्र को विज्ञान-आधारित कुछ वैकल्पिक विषयों को लेने का पात्र होने के लिए माध्यमिक परीक्षा या इसके समकक्ष परीक्षा में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।”

नोटिस के अनुसार, जो लोग गणित या सांख्यिकी या कंप्यूटर विज्ञान को वैकल्पिक विषयों के रूप में लेना चाहते हैं, उन्हें गणित में न्यूनतम 35 प्रतिशत अंक प्राप्त करने की आवश्यकता है और इसी तरह जीव विज्ञान के लिए जीवन विज्ञान में कट-ऑफ 35 प्रतिशत है। इसमें कहा गया है कि जो छात्र कक्षा 11 में भौतिकी या रसायन विज्ञान या दोनों वैकल्पिक विषयों के साथ प्रवेश चाहते हैं, उनके कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा में भौतिक विज्ञान में कम से कम 35 प्रतिशत अंक होने चाहिए।

डब्ल्यूबीसीएचएसई के अध्यक्ष चिरंजीब भट्टाचार्य ने  बताया कि 2021 में कट-ऑफ 45 प्रतिशत तक बढ़ा दिया गया था, क्योंकि कोविड-19 के मद्देनजर कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षाएं आयोजित नहीं की जा सकीं और पिछले साल के अंक के आधार पर लगभग सभी को उच्च अंक मिलने के कारण मानदंडों को पूरा करने की उम्मीद थी। उन्होंने कहा, ”इस साल इसे घटाकर 35 प्रतिशत कर दिया गया है।” परिषद ने एक अन्य नोटिस में प्रत्येक उच्च माध्यमिक विद्यालय में सीटों की अधिकतम संख्या 275 से बढ़ाकर 400 करने की जानकारी दी है। बंगाल बोर्ड की कक्षा 10 की परीक्षाओं के परिणाम तीन जून को घोषित किए गए थे और 10.98 लाख उम्मीदवारों में से 86 प्रतिशत से अधिक सफल घोषित किए गए थे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 4 =