बरेली । फेसबुक के ग्रुप शम्अ-फ़िरोज़ाँ ने एक लफ़्ज़ी मुशायरे का आयोजन किया था। जिसमें 3 लफ़्ज़ दिये गये थे 1. तम्मना, 2. धड़कन, 3. इंतज़ार। मुशायरे में इन तीनों लफ़्ज़ों पर एक-एक शेर पेश करना था। निर्णायक मंडल ने इस मुशायरे में बरेली के मशहूर शायर विनय सागर जायसवाल को प्रथम पुरस्कार से नवाज़ा साथ ही बेहतरीन कलाम का अवार्ड भी दिया। इस पुरस्कार के लिए उन्होंने ग्रुप एडमिन डॉ. शाहीन वसी गुल सहित उनकी पूरी टीम का शुक्रिया अदा किया है। ये तीन शेर उन्होंने मुशायरे में पेश किये थे।97e1433e-23ad-488d-b767-040512b99d9f

तमन्ना—1
तमन्ना है ये अरमां है ये ख़्वाहिश है ये हसरत है
तुम्हारे प्यार में दीवानगी की सब हदें तोड़ूँ
धड़कन —2
हमारे इश्क़ की मिल जायेगी गवाही तुमको
ज़रा करीब से धड़कन तो सुन लो इस दिल की
इंतज़ार—3
यक़ीन वादे पे उसके था इस कदर दिल को
तमाम उम्र हमें इंतज़ार करना पड़ा

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five − 3 =