कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस के सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने बृहस्पतिवार को कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने ‘लोकशाही’ पेश की, जबकि प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी के शासन में ‘तानाशाही’ झलकती है। यहां तृणमूल कांग्रेस की शहीद दिवस रैली को संबोधित करते हुए आसनसोल से हाल ही में सांसद निर्वाचित हुए सिन्हा ने कहा कि वाजपेयी ‘जनहितैषी पिता तुल्य और राजनेता’ थे। उन्होंने कहा, ‘‘वाजपेयी जी अलग थे….. उन्होंने सरकार की ‘लोकशाही’ प्रकृति पेश की, जबकि मोदी सरकार की तानशाही प्रकृति पेश कर रहे हैं।’’

वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे सिन्हा ने कहा, ‘‘ बेरोजगारी 50 सालों में सबसे अधकि है, वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) हर रोज सही किया जा रहा है, गरीब महिलाओं द्वारा अपने घरों में रखी गयी कठिन परिश्रम की कमाई वाले पैसे को नोटबंदी से बर्बाद कर दिया गया। मोदी सरकार के पिछले आठ सालों में ऋण का बोझ कई गुना बढ़ गया है।’’

‘बिहारी बाबू’ के नाम से लोकप्रिय सिन्हा ने तृणमूल सुप्रीमो को ‘‘देश में सबसे लोकप्रिय नेता’’ बताया और कहा, ‘‘ बंगाल जो आज सोचता है, भारत उसे कल सोचेगा।’’भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘‘आज खामोशी है, कल शोर आयेगा, आज तुम्हारा दिन है, कल हम सबका दिन आयेगा।’’ भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जिन्होंने ‘‘बंगाल को लूटने की कोशिश की’’, वे पिछले विधानसभा चुनाव में हार गये।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + three =