तृणमूल का भ्रष्टाचार जनता को केन्द्रीय योजनाओं के लाभ से कर रहा है वंचित : डॉ. दिनेश शर्मा

कोलकाता। पूर्व उपमुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने दक्षिण 24 परगना के जयनगर में  कहा कि बंगाल में तृणमूल सरकार के भ्रष्टाचार का दीमक  जनता को  केन्द्र सरकार की  योजनाओं के लाभ से  वंचित कर रहा है। बंगाल  में विकास  कार्य  पूरी तरह से ठप्प हो गए हैं। हर विभाग से वसूली हो रही है। पुलिस प्रशासन पार्टी विशेष का कार्यकर्ता बनकर रह गया है। केन्द्र की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के नौ साल पूर्ण होने के अवसर पर चल रहे महासम्पर्क अभियान के तहत आयोजित प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि बंगाल की  जनता के मन  में भाजपा के पक्ष में हाई वोल्टेज करंट बह रहा है।

वह आने वाले चुनाव में भाजपा को 35 से अधिक सीट पर चुनाव जिताकर केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में तीसरी बार सरकार बनवाने जा रही है। भाजपा की  इस जीत के बाद बंगाल में दीदी के भ्रष्टाचार का किला भरभराकर ढह जाएगा। तृणमूल पर  बंगाल को गर्त में  ले जाने का आरोप लगाते हुए डा शर्मा ने कहा कि  प्रदेश में माफिया राज हावी है।

आज सूबे में खनन, गिट्टी , पशु तस्करी, सोने की तस्करी का माफिया हावी है और हत्या अपहरण महिलाओं से बदसलूकी एक व्यवसाय बन  गया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भी 2017 में भाजपा की सरकार बनने के पहले  यही हाल था पर छह साल में ही यूपी से अपराध और अपराधी व माफिया गायब हो गए हैं। आज प्रदेश में 3.90 लाख करोड़ का निवेश आया है। 20 हवाई अड्डे बन गए हैं। आज यूपी के हर जिले में मेडिकल कालेज बन गए हैं।

पिछले पांच साल में 250 माध्यमिक विद्यालय  व 78 कालेज बने हैं। उन्होंने कहा कि सुशासन भाजपा की सरकारों की पहचान है और  यहां के बुआ भतीजे  को सुशासन का मंत्र सीखने की जरूरत है जिससे कि बंगाल की जनता  भी देश में हो रहे विकास के साथ कदमताल कर सके। इसके लिए उन्हें दिल्ली अथवा यूपी जाकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अथवा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से  सुशासन का मंत्र लेने की जरूरत है।  प्रधानमंत्री आज पूरे विश्व के नेता के तौर पर उभरे हैं आज उनकी लोकप्रियता देश की सीमाओं के पार  पहुच चुकी है।