दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ 28 अक्टूबर को विरोध दिवस मनाएगी

दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ के जोनल अध्यक्ष प्रहलाद सिंह के नेतृत्व 28 अक्टूबर सांय 5 बजे से खड़गपुर डीआरएम कार्यालय के समक्ष विरोध दिवस कार्यक्रम किया जाएगा। ज्ञात हो कि दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ की खड़गपुर की ओपन लाइन व खड़गपुर कारखाना इकाई ने भारतीय मजदूर संघ व भारतीय रेल मजदूर संघ के आह्वान पर 10 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक केंद्र सरकार की नीतियों के विरूद्ध चेतावनी सप्ताह मनाया। जिसमें बोनस भुगतान, नये पेंशन स्कीम समाप्त कर पुराने पेंशन स्कीम को लागू करना, नये लेबर कोड में मजदूर विरोधी प्रावधान को समाप्त किया जाना, बिना किसी वेतन सीमा के रात्रि ड्यूटी भत्ता का भुगतान, रेलवे में निजीकरण/निगमीकरण पर रोक आदि मुख्य मुद्दे थे, जिनके विरूद्ध देशव्यापी चेतावनी सप्ताह मनाया गया था।

भारतीय मजदूर संघ, भारतीय रेलवे मजदूर संघ व दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ के सम्मिलित प्रयास के कारण ही केंद्र सरकार ने 22 अक्टूबर को केंद्रीय कर्मचारियों को बोनस का भुगतान किया। यह दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ की आंशिक जीत है, लेकिन अन्य मुद्दों पर सरकार का ध्यानाकर्षण हेतु दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ के जोनल अध्यक्ष प्रहलाद सिंह के नेतृत्व 28 अक्टूबर को खड़गपुर डीआरएम कार्यालय के समक्ष विरोध दिवस कार्यक्रम करने का निर्णय लिया गया है, जिनमें नये लेबर कोड में मजदूर विरोधी प्रावधान को समाप्त किया जाना, बिना किसी वेतन सीमा के रात्रि ड्यूटी भत्ता का भुगतान, रेलवे में निजीकरण/निगमीकरण पर रोक आदि विषयों पर सरकार के विरुद्ध प्रदर्शन व ज्ञापन सौंपा जाएगा, ताकि रेलवे में मान्यता प्राप्त यूनियनों की नाकामी को उजागर किया जा सके जो लगातार मजदूरों को बेवकूफ बनाने का कार्य करते आ रहे हैं।

दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ का सभी रेलवे श्रमिकों से आग्रह है कि 28 अक्टूबर को डीआरएम कार्यालय के समक्ष विरोध दिवस कार्यक्रम में उपस्थित होकर अपना सहयोग दें ताकि सरकार का अन्य मुद्दों पर ध्यानाकर्षित किया जा सके और साथ ही समाधान के लिए मजबूर किया जा सके।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 1 =