पंडित मनोज कृष्ण शास्त्री, वाराणसी । यदि कुंडली के दोषों की वजह से भाग्य का साथ नहीं मिल पा रहा है तो यहां बताए जा रहे सात उपाय समय-समय पर करते रहें। ज्योतिष के उपायों से दुर्भाग्य दूर हो सकता है और धन के कार्यों में सफलता मिल सकती है। जानिए ये उपाय कौन-कौन से हैं…

1. शनिवार की रात को हनुमानजी या शिवलिंग के समाने तेल का दीपक लगाएं। यह उपाय बहुत चमत्कारी उपाय है। जो लोग प्रतिदिन रात के समय शिवलिंग के सामने दीपक लगाते हैं उन्हें स्थिर लक्ष्मी की प्राप्ति होती है।

2. हनुमान चालीसा या सुंदरकांड का पाठ करें। साथ ही बजरंग बली को सिंदूर, चमेली का तेल और पान चढ़ाएं।

3. शनिवार को एक कटोरी में थोड़ा सा तेल लें और उसमें अपना चेहरा देखें। चेहरा देखने के बाद यह तेल किसी मंदिर में दान करें या शनिदेव को अर्पित कर दें।

4. शनिवार को शिवलिंग पर काले तिल और जल चढ़ाएं। यह बीमारियों से मुक्ति दिलाने वाला कारगर उपाय है।

5. हर शनिवार और अमावस्या पर पीपल की सात परिक्रमा करें। परिक्रमा करते समय अपने इष्टदेवी-देवताओं के नामों का या मंत्रों का जप करें।

6. पीपल को तांबे के लौटे से जल चढ़ाएं। हर शनिवार को यह उपाय करना चाहिए। इससे कुंडली के कई दोषों का निवारण हो जाता है। शनि दोष और कालसर्प दोष के लिए तो यह उपाय रामबाण है।

7. रोज सुबह उठकर सबसे पहले अपनी हथेलियां देखें और हथेलियां अपने चेहरे पर फेरें। साथ ही इस मंत्र का जप करें।
मंत्र- कराग्रे वसते लक्ष्मी, करमध्ये सरस्वति, करमूले तू गोविंद। प्रभाते कर दर्शनम्।।

यदि कुंडली के दोषों की वजह से भाग्य का साथ नहीं मिल पा रहा है तो यहां बताए जा रहे सात उपाय समय-समय पर करते रहें।

पंडित मनोज कृष्ण शास्त्री

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें
जोतिर्विद वास्तु दैवज्ञ
पंडित मनोज कृष्ण शास्त्री
9993874848

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − 5 =