बंगाल में खुले सभी कक्षाओं के स्कूल, कोविड नियमों का करना होगा पालन

प्रतिकात्मक फोटो, साभार गूगल

कोलकाता। देश में कोरोना की रफ्तार कम होने के साथ ही कई राज्यों ने स्कूलों को खोल दिया है। इसी कड़ी में अब बंगाल में प्राथमिक विद्यालय और उच्च प्राथमिक विद्यालय फिर खुल गए हैं। साथ ही स्कूलों में कोरोना नियमों का पालन करना जरुरी है। बंगाल में कोरोना वायरस महामारी की वजह से करीब दो साल बाद बुधवार से प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूल खोले गए हैं। लंबे समय बाद स्कूल खुलने पर छात्र भी बड़े उत्साह से स्कूल पहुंचे हैं। बता दें कि पश्चिम बंगाल में पहले ही कक्षा आठवीं से कक्षा 12वीं तक के स्कूल खुल गये थे, लेकिन बुधवार को पहली बार प्राथमिक स्कूल खोले गये हैं।

मालूम हो कि राज्य सरकार ने प्रदेश में सामान्य स्थिति की तरफ कदम बढ़ाते हुए मंगलवार को राज्य में स्कूल खोलने की घोषणा की थी। बंगाल में स्कूलों के लिए शिक्षा विभाग की तरफ से एक एसओपी जारी करेगा। जिसके तहत यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कोरोना नियमों का पालन कराया जाए। राज्य में एकीकृत बाल विकास योजना (ICDS) केंद्रों को भी फिर से खोल दिया गया है। इन केंद्रों को आंगनवाडी के रूप में जाना जाता है। ।

गौरतलब हो कि सूबे में पहले से ही कक्षा आठवीं से 12वीं तक की कक्षाएं खोली गई थी। अब अब प्राथमिक और अपर प्राइमरी कक्षाओं के खुलने के बाद सभी कक्षाओं के स्कूल खुल गए हैं। राज्य में स्कूल खुल गए हैं इसके साथ ही पश्चिम बंगाल प्राथमिक शिक्षा बोर्ड ने स्पष्ट किया कि कोरोना नियमों का पालन करना अनिवार्य है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + fourteen =