कोलकाता । पश्चिम बंगाल की बहुप्रतीक्षित वंदे भारत ट्रेन पर हमले का जिक्र करते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने राज्य की दो महत्वपूर्ण ट्रेनों के बंद होने की आशंका जाहिर की है। बुधवार को उन्होंने राजभवन कोलकाता में जाकर राज्यपाल डॉ. सीवी आनंद बोस से मुलाकात की। उसके बाद बाहर निकल कर उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में दो और वंदे भारत ट्रेन चलाने की योजना है लेकिन जैसी हमले की घटनाएं हो रही हैं उसे देखते हुए ऐसा लगता है कि रेल मंत्रालय इसे बंगाल के बजाय कहीं और से चलाने पर विचार कर सकता है।

मजूमदार ने कहा कि नागरिकता अधिनियम के खिलाफ जिस तरह से राज्य भर में लूंगी वाहिनी ने तांडव किया था और रेलवे परिसर में तोड़फोड़ आगजनी और पत्थरबाजी हुई थी उसी तरह से वंदे भारत पर भी पथराव हुआ है। जिस समय इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई गई उस समय मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की उपस्थिति में जय श्री राम के नारे लगाए गए थे, इसी का बदला लेने के लिए ऐसा किया गया हो सकता है।

उन्होंने कहा कि पूरे देश में कुल 475 वंदे भारत ट्रेन चलाए जाने की योजना है जिसमें  बंगाल में तीन ट्रेनें चलने वाली हैं। लेकिन जो हमले की घटना हुई है उसके बाद से ऐसा लगता है कि रेल मंत्रालय बंगाल के बजाय कहीं और इस ट्रेन के संचालन के बारे में सोच सकता है। उन्होंने कहा कि बहुत हद तक संभव है कि सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस से जुड़े उग्रवादी टाइप के लोग इस पत्थरबाजी की घटना में शामिल हो सकते हैं। बंगाल में हर ओर भ्रष्टाचार है। आवास योजना के तहत लोगों को घर नहीं मिल रहा है तो बीडीओ दफ्तर में पथराव कर सकते हैं। वंदे भारत पर पथराव क्यों कर रहे हैं?

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + 14 =