नई दिल्ली। प्रसिद्ध पूर्व एथलीट पीटी. उषा ने बुधवार को राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ ली। उन्हें सरकार द्वारा संगीतकार इलैयाराजा, परोपकारी वीरेंद्र हेगड़े और फिल्म निर्देशक के.वी. विजयेंद्र प्रसाद के साथ 6 जुलाई को उच्च सदन के लिए मनोनीत किया गया था। केरल के कोझीकोड जिले के एक छोटे से गांव में जन्मी एक प्रसिद्ध एथलीट पीटी उषा भारत की सबसे प्रतिष्ठित खिलाड़ियों में से एक हैं। वह देश भर में उन लाखों युवा लड़कियों के लिए एक आदर्श और प्रेरणा रही हैं, जिन्होंने खेल, विशेष रूप से ट्रैक और फील्ड स्पर्धाओं में अपना करियर बनाने का सपना देखा है।

वह पय्योली एक्सप्रेस के रूप में जानी जाती हैं क्योंकि उन्होंने देश का प्रतिनिधित्व किया है और विश्व जूनियर आमंत्रण मीट, एशियाई चैंपियनशिप और एशियाई खेलों सहित विभिन्न अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजनों में पदक जीते हैं। उन्होंने अपने करियर के दौरान कई राष्ट्रीय और एशियाई रिकॉर्ड बनाए और तोड़े। 1984 के ओलंपिक में, वह फोटो-फिनिश में ट्रैक और फील्ड में भारत का पहला पदक जीतने से चूक गईं क्योंकि वह महिलाओं की 400 मीटर बाधा दौड़ में चौथे स्थान पर रहीं और 1/100 सेकंड से कांस्य पदक हार गईं।

सेवानिवृत्ति के बाद, उन्होंने उषा स्कूल ऑफ एथलेटिक्स की शुरूआत की, जो प्रतिभाशाली युवाओं को विश्व स्तरीय सुविधाएं प्रदान करता है। अर्जुन पुरस्कार और पद्मश्री से सम्मानित उषा का सोमवार को दिल्ली हवाईअड्डे पर भाजपा ने भव्य स्वागत किया। लोकसभा सदस्य मनोज तिवारी और पार्टी की दिल्ली इकाई के उपाध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा के नेतृत्व में भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 − one =