दिव्यांगजनों की अनूठी प्रतिभा प्रदर्शित करने हेतु एशियन लिटरेरी सोसाइटी द्वारा परवाज़-2022 का आयोजन

कोलकाता । 5 फरवरी, 2022 को, एलसफेयर फाउंडेशन एवं एशियन लिटरेरी सोसाइटी ने दिव्यांगजनों की अनूठी प्रतिभा प्रदर्शित करने हेतु परवाज़- 2022 कार्यक्रम का आयोजन किया। वर्तमान कोरोना महामारी को देखते हुए यह कार्यक्रम ऑनलाइन आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम की शुरुआत “विकलांगता, अक्षमता नहीं” विषय पर एक पैनल चर्चा के साथ हुई। पैनलिस्ट मधुसूदन श्रीनिवास (पूर्व वरिष्ठ संपादक एनडीटीवी) और गीता पोडुवल (संस्थापिका, द्रज्यशक्ति ट्रस्ट) ने दिव्यांगजनों से संबंधित मुद्दों और उन्हें कुशल बनाने के तरीकों पर चर्चा की।

परवाज़ 2021 में भारत, संयुक्त अरब अमीरात और अमरीका के दिव्यांगजनों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया और अपनी अनूठी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। प्रतिभागियों में आकाश ठाथर, अनुष्का टंडन, अन्वी विजय ज़ांज़ारुकिया, बेंजी कुमार, देवांश चंद्र, जतिन राठौड़, जोआन रोड्रिग्स, केता त्रिवेदी, के वेंकट, कृष्णेंदु चटर्जी, मोहिना चंद्रप्रकाश शर्मा, मुस्कान मल्होत्रा, रश्मि पाटिल, शरण डेल्हीवाला, श्रेयन चक्रवर्ती, सिद्धार्थ शाक्य, सैयद हैदर अली, उर्वी भावेशभाई राठी, उसैद शेख, जिन्निया देसाई, अनन्या हलर्नकर, ब्रायडन रोड्रिग्स, रक्षिता दिनेशभाई टी भगत, कुमार ज्योत, अफ्फान हाशमी, जय गंगाडिया और बिहाग श्रीनिवास शामिल थे।

इस कार्यक्रम का संचालन एएलएस प्रशासिका ज़ेबा हाशमी और निशा टंडन द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अंत में सभी प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया। एलसफेयर फाउंडेशन एवं एशियन लिटरेरी सोसाइटी के परवाज़-2022 को दुनिया भर के दर्शकों से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली और उन्होंने कोरोनोवायरस महामारी के समय एशियन लिटरेरी सोसाइटी (एएलएस) की इस पहल की भूरी-भूरी प्रशंसा की।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − eight =