साहित्य का खुला मंच और “साहित्य समाज” का लोकार्पण

तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर : रेल शहर खड़गपुर मंगलवार को एक विरल साहित्यिक परिघटना का साक्षी बना । शहर के बोगदा स्थित मनीशंकरी बुक स्टाल के समक्ष कलमकारों की मौजूदगी में साहित्यिक पत्रिका ” साहित्य समाज ” के ताजा अंक का लोकार्पण किया गया। इस अवसर पर पत्रिका के संपादक अमिताभ चक्रवर्ती , वरिष्ठ पत्रकार अधीर कुमार बोस , जहीर चौधरी , समर चक्रवर्ती , साहित्यकार शेख कमरूज्ममां , विपन चक्रवर्ती , अनिद्य सौरभ , भवानी प्रसाद गुइन , स्नेहाशीष कोंगार , तथा देव व्रत चटोपाध्याय आदि उपस्थित रहे ।

साहित्य का खुला मंच और "साहित्य समाज" का लोकार्पण
साहित्य का खुला मंच और “साहित्य समाज” का लोकार्पण

पत्रिका का विमोचित अंक भिखारी को समर्पित है । कविता व अन्य विद्याओं के माध्यम से भिखारी के मानस को देखने – समझने की कोशिश की गई है । उत्कृष्ट साहित्यिक सामग्री के माध्यम से भिखारियों से जुड़ी विडंबना और विविध पहलुओं पर रोशनी डालने की कोशिश की गई है । विशेष आलेख में इस बात का विस्तार से जिक्र किया गया है कि समय के पहिये ने किस तरह एक समय के श्रम जीवियों को भी भिखारी बना डाला है । कविताओं में भी यह पीड़ा अभिव्यक्त हुई है । पत्रिका के संपादक अमिताभ चक्रवर्ती ने कहा कि कलमकार साथियों के साथ वे कई वर्षों से साहित्य साधना में लगे हैं । कोरोना काल में उन्होंने समारोह के बजाय खुले मंच के जरिए पत्रिका के विमोचन का निश्चय किया । इसमें सभी का भरपूर सहयोग मिला ।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × five =