लीसेस्टरशायर (इंग्लैंड)। भारत की 100 मीटर बाधा धावक ज्योति याराजी ने ब्रिटेन में लोफबोरो अंतरराष्ट्रीय एथलेटिक्स की 100 मीटर बाधा दौड़ में अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ते हुए स्वर्ण पदक जीता।22 वर्षीय ज्योति ने आयोजित 100 मीटर बाधा दौड़ को 13.11 सेकंड में पूरा किया। इससे पहले ज्योति ने 10 मई को साइपरस अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में यह दौड़ 13.23 सेकंड में पूरी करते हुए स्वर्ण पदक जीता था। ज्योति से पहले यह रिकॉर्ड अनुराधा बिस्वाल के नाम था जिन्होंने 20 साल पहले 2002 में 13.38 सेकंड में 100 मीटर बाधा दौड़ पूरी की थी।

पिछले महीने आयोजित फेडरेशन कप में, ज्योति ने 13.09 सेकंड में यह दौड़ पूरी की थी, लेकिन उनके इस प्रयास को गिना नहीं गया क्योंकि हवा 2.0 की वैध सीमा से ऊपर (2.1+) थी। दूसरी तरफ़ सिद्धांत तिंगालय ने 110 मीटर बाधा दौड़ को 13.97 सेकंड में पूरा कर दूसरा स्थान हासिल किया। साथ ही भारतीय स्प्रिंटर अमलान बोरगोहेन ने पुरुष 200 मीटर प्रतियोगिता में 21.27 सेकंड की टाइमिंग के साथ पांचवा स्थान हासिल किया।

अप्रैल में हुए कोझिकोड फेडरेशन कप में असम के बोरगोहेन ने मुहम्मद असद के पोलैंड (2018) में बनाये गये 20.62 सेकंड के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 20.52 सेकंड में 200 मीटर दौड़ पूरी की थी। इसके अलावा पूर्व राष्ट्रीय तैराक और मौजूदा बाधा धावक ग्रेससन अमलदास ने लोफबोरो इंटरनेशनल में अंडर-20 पुरुष 110 मीटर बाधा अतिथि दौड़ 13.91 सेकंड में पूरी करते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three + three =