बंगाल में अंतरराज्यीय क्रिप्टो ट्रेडिंग रैकेट का भंडाफोड़

कोलकाता/ हैदराबाद : तेलंगाना में रचाकोंडा पुलिस ने शनिवार को ऑनलाइन क्रिप्टो ट्रेडिंग के नाम पर लोगों को ठगने वाले एक अंतर-राज्यीय गिरोह का भंडाफोड़ करने का दावा किया है। रचाकोंडा पुलिस आयुक्तालय की साइबर अपराध शाखा के अधिकारियों ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जो सभी पश्चिम बंगाल के निवासी हैं। इनमें से एक बैंक कर्मचारी है। मुख्य आरोपी भी पश्चिम बंगाल का है, जो फरार है।

पुलिस के अनुसार, छोटा भाई उर्फ दीपू मंडल ने विभिन्न शेल कंपनियों के नामों का इस्तेमाल किया, जो कभी अस्तित्व में नहीं थीं और निवेश के नाम पर पीड़ितों को ठगती थीं और बाद में क्रिप्टो मुद्रा खरीदकर राशि का आदान-प्रदान करती थीं। रचाकोंडा के पुलिस आयुक्त महेश भागवत ने कहा कि एक पीड़ित द्वारा शिकायत दर्ज कराने के बाद जांच के दौरान गिरफ्तारियां की गईं। घाटकेसर के नारापल्ली निवासी भानोथू किरण कुमार से 86 लाख रुपये की ठगी की गई है।

पुलिस ने अलग-अलग बैंकों के पांच मोबाइल फोन, छह सिम कार्ड, तीन बैंक चेक बुक, छह एटीएम कार्ड जब्त किए हैं। आरोपियों के बैंक खातों में 50 लाख रुपये की राशि भी फ्रीज कर दी गई है। पुलिस के अनुसार, मुख्य आरोपी ने पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी जिले में एक बैंक कर्मचारी नूर आलम हक के साथ मिलकर 64 अलग-अलग बैंक खाते खोले और दो अन्य आरोपियों की मदद से भोले-भाले ग्रामीणों के नाम पर विभिन्न सिम कार्ड खरीदे।

 

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + seven =