1 मार्च से 6 मार्च तक फिर चलेगा बीजेपी विधायकों और सांसदों के सामने धरना

अलीपुरद्वार। उत्तर बंगाल के चाय बागानों में श्रमिकों की भविष्य निधि समस्या के समाधान की मांग को लेकर तृणमूल ने एक बार फिर उत्तर बंगाल में सभी बीजेपी विधायकों और सांसदों के सामने धरना देंगे। तृणमूल कांग्रेस का यह कार्यक्रम 1 मार्च से 6 मार्च छह दिनों तक चलेगा। यह जानकारी तृणमूल नेतृत्व की ओर से दी गई है। इससे पहले 27 जनवरी से 5 फरवरी तक बीजेपी विधायकों और सांसदों के आवासों का तृणमूल कांग्रेस ने घेराव किया था।

तृणमूल चाय श्रमिक संघ के केंद्रीय अध्यक्ष वीरेंद्र ओरान ने भी कहा कि चाय बागान श्रमिकों की भविष्य निधि एक बड़ी समस्या है, इसके अलावा आधार की समस्या है, बीजेपी प्रतिनिधि इस बारे में कुछ नहीं कर रहे हैं। भविष्य निधि केंद्र सरकार का विभाग है। लेकिन भाजपा विधायक और सांसद इसको लेकर कोई आवाज नहीं उठा रहे हैं, इसलिए उनके घरों के सामने इस धरना कार्यक्रम का आयोजन किया गया है।

इसपर बीजेपी कुमारग्राम विधायक मनोज कुमार ने भी कहा कि तृणमूल का कोई कार्यक्रम नहीं है इसलिए उन्होंने ये सब मजाक बनाना शुरू कर दिया है।