दुनिया में सब कुछ है नाशवान ! बस अजर -अमर है सत्कर्म !!

तारकेश कुमार ओझा , खड़गपुर : दुनिया में कुछ भी निश्चित नहीं है । सब कुछ नाशवान है । बस इंसान के सत्कर्म ही अजर – अमर रह कर नई पीढ़ी को राह दिखाता रहता है । यह बात वरिष्ठ चिकित्सकों ने कही । खड़गपुर के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. गौरांग विश्वास व हाल में दिवंगत हुए सनातन रथ की स्मृति में आयोजित रक्तदान शिविर में बोलते हुए उन्होंने ये उद्गार व्यक्त किए । इस रक्तदान शिविर का आयोजन पर्वतारोहियों की संस्था खड़गपुर एक्सप्लोरर्स एसोसिएशन ने किया था । शहर के छोटा टेंगरा स्थित साथी सोसाइटी परिसर में आयोजित इस शिविर में कुल 30 यूनिट रक्तदान हुआ । इस अवसर पर उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों में खड़गपुर रेल मंडल के मुख्य चिकित्सक डॉ . सुशील कुमार बेहरा , वरिष्ठ चिकित्सक डॉ . एस . ए .नाजमी , खड़गपुर स्टेट जनरल हास्पिटल ब्लड बैंक की वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. झूमा मुखर्जी , प्रख्यात स्त्री रोग विशेषग्य डॉ. अनूप मल्लिक , डॉ. एस . एस माईती , मधुमिता विश्वास , पलास दास और वरिष्ठ समाजसेवी अमिताभ दासगुप्ता आदि प्रमुख रहे ।

शिविर में दिवंगत स्व . डॉ. गौरांग विश्वास को श्रद्धांजलि दी गई । अपने संबोधन में वक्ताओं ने कहा कि चिकित्सा जैसे क्षेत्र में रह कर भी डॉक्टर्स अपने सामाजिक सरोकार से जुड़े रह सकते हैं , यह बात डॉ . विश्वास ने अपने जीवन काल में बखूबी साबित की । वे आजीवन समाज के निर्धनतम लोगों की चिकित्सा और स्वास्थ्य को लेकर चिंतित व सचेष्ट रहे । एक चिकित्सक से अधिक वे समाजसेवी थे । नई पीढ़ी के चिकित्सकों को उनकी जीवनी से सीख लेनी चाहिए ।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − eight =