सीबीआई कोर्ट का आदेश : अणुव्रत को सुरक्षा देगा आसनसोल पुलिस कमिश्नरेट, दिल्ली ले जाएगी ईडी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के बहुचर्चित मवेशी तस्करी मामले में गिरफ्तार बीरभूम जिले के बाहुबली तृणमूल नेता अणुव्रत मंडल को दिल्ली ले जाने का रास्ता सोमवार को और साफ हो गया। जेल से कोलकाता तक उन्हें सुरक्षा देने को लेकर जेल प्रबंधन और आसनसोल पुलिस कमिश्नरेट की बहानेबाजी पर आसनसोल की विशेष सीबीआई कोर्ट ने विराम लगा दिया है। न्यायाधीश राजेश चक्रवर्ती ने स्पष्ट कर दिया है कि आसनसोल से कोलकाता तक आसनसोल पुलिस कमिश्नरेट की टीम सुरक्षा देगी। वहां किसी केंद्रीय अस्पताल में अणुव्रत मंडल की चिकित्सकीय जांच कराने के बाद उन्हें प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारी दिल्ली ले जाएंगे जहां उनसे पूछताछ होनी है।

दरअसल शनिवार को ही कलकत्ता हाईकोर्ट ने आदेश दे दिया था कि अणुव्रत मंडल को ईडी दिल्ली ले जा सकती है। जेल प्रबंधन उनके जाने की व्यवस्था करेगा और आसनसोल पुलिस कमिश्नरेट उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करेगा। लेकिन आसनसोल पुलिस ने स्पष्ट कर दिया था कि उन्हें इस बारे में कोई आदेश नहीं मिला है। इसके बाद ईडी ने सोमवार को एक बार फिर आसनसोल के विशेष सीबीआई कोर्ट ने इस संबंध में याचिका लगाकर न्यायाधीश का ध्यानाकर्षण किया।

आसनसोल पुलिस कमिश्नरेट की ओर से डीसी सेंट्रल आईपीएस एसएस कुलदीप कोर्ट में मौजूद थे। इसी पर कोर्ट ने स्पष्ट किया कि जल्द से जल्द अणुव्रत मंडल को दिल्ली भेजने की व्यवस्था जेल प्रबंधन करे। जेल प्रबंधन मेल और फोन के जरिए आसनसोल पुलिस और ईडी अधिकारी पंकज कुमार को सारी जानकारी देगा। आसनसोल पुलिस कमिश्नरेट उन्हें सुरक्षा देगा और ईडी उन्हें दिल्ली ले जाएगी।