भाजपा ने एक बार फिर राज्य में नगरपालिकाओं के चुनाव टालने की मांग की

कोलकाता। भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई ने एक बार फिर पश्चिम बंगाल की 116 नगरपालिकाओं के चुनाव टालने की अपनी मांग दोहराई है। गुरुवार को भाजपा के कई बड़े नेताओं ने राज्य में भय का माहौल बताते हुए चुनाव टालने की मांग की है। बता दें कि बंगाल में 27 फरवरी से नगरपालिका चुनाव शुरू होने है। इसको लेकर एकबार फिर राजनीति गरमा गई है। इधर कई वार्डों में प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। चुनाव प्रचार भी जोर शोर से कर रहे हैं।

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने गुरुवार को ट्विटर पर लिखा है कि कूचबिहार जिले में भाजपा के विधायक मिहिर गोस्वामी को दिनदहाड़े सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पुलिस की मौजूदगी में मारने-पीटने की कोशिश की गई। उन्होंने आरोप लगाया कि वह ऐसा कर सकते हैं, क्योंकि उन्हें इस बात का भरोसा है कि पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करेगी। बंगाल में डर का माहौल है।

इस संबंध में भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि बंगाल में आतंकियों ने डेरा डाल रखा है। जगह-जगह भाजपा कार्यकर्ताओं और नेताओं पर हमले हो रहे हैं। विपक्ष में खड़े होने वाले नेताओं को धमकाया जा रहा है और सभी को परिणाम भुगतने की चेतावनी दी गई है। ऐसे में नगरपालिका के चुनाव रद्द किया जाना चाहिए। उन्होंने राज्यपाल जगदीप धनखड़ व राज्य सरकार के बीच चल रहे टकराव का जिक्र करते हुए कहा कि आज राज्य की सबसे बड़ी समस्या राज्यपाल को हटाने की बना दी गई है लेकिन राज्यपाल के हट जाने के बाद भी समस्या का समाधान होने वाला नहीं है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + 19 =