बंगाल निकाय चुनाव : तृणमूल की सुनामी में डूबा विपक्ष

कोलकाता। ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस बुधवार को पश्चिम बंगाल निकाय चुनावों में 108 नगरपालिकाओं में से 103 पर जीत दर्ज कर सभी विपक्षी पार्टियों को करारी मात दी। नगरपालिकाओं के परिणाम बुधवार को घोषित किए गए। मतदान 27 फरवरी को हुए थे। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के नेतृत्व वाले वाम मोर्चे को ताहिरपुर में जीत हासिल हुई जबकि एक नए संगठन और हमरो पार्टी ने प्रतिष्ठित दार्जिलिंग नगरपालिका में आश्चर्यजनक जीत हासिल की है।

चार नगर पालिकाओं – बेगलडांगा (मुर्शिदाबाद जिला), एगरा (पूर्वी मेदिनीपुर), चापदानी (हुगली) और झालदा (पुरुलिया) – ने त्रिशंकु फैसले दिए। वहीं, दार्जिलिंग नगरपालिका नवगठित हमरो पार्टी के पास गई है। चुनाव में 8,160 प्रत्याशियों की किस्मत तय हुई. इस बार चुनावी मैदान में तृणमूल के 2,258, बीजेपी के 2,021, माकपा के 1,588 और कांग्रेस के 965 उम्मीदवार मैदान में थे। इस बार 843 निर्दलीय प्रत्याशी भी कई नगरपालिकाओं में काटे की टक्कर हुई।

बता दें कि मुख्य विपक्षी दल BJP अब तक एक भी नगर पालिका नहीं जीत पाई है। वहीं शुभेंदु अधिकारी के गढ़, कांथी नगरपालिका पर भी पार्टी ने अपना नियंत्रण खो दिया है। टीएमसी ने केसर के गढ़ पश्चिम मिदनापुर और उत्तर बंगाल में भी जीत हासिल की। टीएमसी की जीत पर ममता ने ट्वीट कर लिखा है कि “मां-माटी मानुष को धन्यवाद। एक और बड़ी जीत के लिए शुक्रिया। सभी जीतने वाले प्रत्याशियों को बधाई. इस जीत को हमारी जिम्मेदारी बढ़ाने दीजिए। सभी साथ मिलकर शांति के लिए काम करते हैं, राज्य के विकास के लिए काम करते हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 5 =