बैडमिंटन : 43 साल बाद थॉमस कप के सेमीफाइनल में पहुंचा भारत

बैंकाक। भारतीय पुरुष बैडमिंटन टीम ने गुरुवार को मलेशिया को 3-2 से हराकर 43 साल के लम्बे इन्तजार के बाद थॉमस कप टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बना ली। भारत इससे पहले तीन बार – 1952, 1955 और 1979 में सेमीफाइनल में पहुंचा था। भारत 2020 में पिछले संस्करण के क्वार्टरफाइनल में हार गया था। भारत का सेमीफाइनल में दक्षिण कोरिया और डेनमार्क के बीच मुकाबले के विजेता से मुकाबला होगा। किदाम्बी श्रीकांत, एच इस प्रणय और चिराग शेट्टी तथा सात्विक सैराज रन्किरेड्डी की जोड़ी ने अपने अपने मुकाबले जीतकर भारत को सेमीफाइनल में पहुंचाया। विश्व के सातवें नंबर के खिलाड़ी लक्ष्य सेन अपना मुकाबला हार गए।

अनामिका ने विश्व मुक्केबाजी में जीत के साथ अपने अभियान का किया आगाज

भारतीय मुक्केबाज अनामिका (50 किग्रा) ने तुर्की के शहर इस्तांबुल में जारी आईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप के 12वें संस्करण में जीत के साथ प्री-क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है।अनामिका ने अपने कौशल और तकनीकी श्रेष्ठता का प्रदर्शन करते हुए रोमानिया की यूजेनिया एंजेल को एकतरफा अंदाज में 5-0 से हराया। बाउट की शुरुआत काफी आक्रामक हुई। दोनों मुक्केबाजों ने मुकाबला शुरू होने के साथ ही एक दूसरे पर लगातार हमला किया लेकिन अनामिका ने अपने तेज फुटवर्क और मूवमेंट को सटीक बनाए रखते हुए प्रभावशाली तरीके से स्पष्ट पंच लगाए औऱ साथ ही साथ प्रतिद्वंद्वी के घूंसों से बचती भी रहीं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen + five =