आसनसोल : तृणमूल हिंदी प्रकोष्ठ की ओर से कर्मी सम्मलेन का आयोजन

आसनसोल। आसनसोल लोकसभा उपचुनाव में तृणमूल प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा के समर्थन में मंगलवार को हिंदी भवन उषाग्राम में तृणमूल हिंदी प्रकोष्ठ की ओर से कर्मी सम्मलेन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की और से किये गए विकास कार्यों विशेष कर हिंदीभाषा-भाषियों के लिए किये गए योगदान को वक्ताओं ने अपने वक्तव्य में रखा। देश के अन्य राज्यों और पश्चिम बंगाल में हिंदी भाषियों को मिल रहे सम्मान, नौकरी एवं संगठनों में दिए गए सम्मान और भागीदारी पर विशेष ध्यान आकृष्ट किया गया। राज्य के मंत्री मलय घटक का आयोजकों ने गुलदस्ता और फूल पहना कर स्वागत किया।

अपने सम्बोधन में तृणमूल हिंदी प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष दक्षिण बंगाल प्रभारी मनोज यादव ने कहा की आज पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जो उन्नयन कार्य किये हैं दूसरे राज्य में वह देखने को नहीं मिलता है। राज्य में सभी स्तर के नागरिकों के लिए हर तरह के योजनाएं और सुविधाएं दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा की हिंदी भाषियों के हित में रखे गये हर जायज मांग को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सहर्ष स्वीकार कर लेती हैं और तुरंत उसे पूरा करती हैं। श्री यादव ने कहा कि पश्चिम बंगाल में हिंदीभाषियों को जो सुविधाएं और सम्मान मुख्यमंत्री ने दिया है वह सीमावर्ती राज्यों में भी देखने को नहीं मिलता है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हिंदी भाषियों के आस्था को देखते हुए छठ पर्व में दो दिनों के अवकाश को राज्य में लागू कर दिया ताकि हिंदी भाषी अपना छठ पर्व पूरे हर्षोल्लास और श्रद्धा के साथ मना सकें। आसनसोल में हिंदी कॉलेज और हावड़ा में हिंदी यूनिवर्सिटी खोले गये ताकि हिंदीभाषियों को हिंदी में उच्च शिक्षा ग्रहण करने में कोई दिक्क्त न हो और वे अच्छे नंबरों से परीक्षा में उत्तीर्ण कर सकें। हिंदी भाषियों के मांग पर पश्चिम बंगाल के अकादमिक परीक्षा में हिंदी भाषियों के लिए हिंदी में प्रश्न पत्र दिए गये और हिंदी में ही उत्तर लिखने कि आजादी दिए गये। हिंदीभाषियों के लिए मुख्यमंत्री ने जो किया है उसके लिए बंगाल के हिंदी भाषी सदियों तक उनके ऋणी रहेंगे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 2 =