कोलकाता। पश्चिम बंगाल में अलग-अलग घटनाओं में अज्ञात बदमाशों ने दो नवनिर्वाचित पार्षदों की गोली मारकर हत्या कर दी। जहां पानीहाटी में पार्षद अनुपम दत्ता की हत्या के लिए टीएमसी ने बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया, वहीं झालदा में कांग्रेस पार्षद तपन कंडू की हत्या के लिए कांग्रेस ने टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया। बंगाल बीजेपी ने हिंसा को लेकर पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी की सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया है कि बंगाल में सरकार नहीं, बल्कि गुंडागर्दी चल रही है।

बता दें कि रविवार की रात को आगरपारा में अपने पालतू कुत्ते के लिए दवा खरीदने के लिए रुके तो 48 वर्षीय पनीहाटी पार्षद के सिर में गोली मार दी गयी थी। दो बार के पार्षद अनुपम दत्ता की अस्पताल ले जाने से पहले ही मौत हो गई थी। इसी के साथ झालदा के चार बार के पार्षद रहे तपन कंडू को अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी थी, जब वह शाम की सैर के लिए निकले थे। भाजपा के सुभेंदु अधिकारी ने कहा, “बंगाल में कानून-व्यवस्था की स्थिति चरमरा रही है।”

बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में लगातार हिंसा के आरोप लगे थे। उसके मद्देनजर कलकत्ता हाईकोर्ट ने सीबीआई की निगरानी में जांच का आदेश दिया था। सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है और कई मामलों में गिरफ्तारी भी हो चुकी है और चार्जशीट भी फाइल की है। पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × five =