नई दिल्ली । पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी के खिलाफ सभी गैर एनडीए दलों को एकजुट करने की कोशिश कर रही हैं। सूत्रों के मुताबिक आज की बैठक में दोनों नेताओं ने विचार विमर्श किया। विपक्षी गठबंधन की रणनीति को ठीक करने के लिए ममता 6 जनपथ पर शरद पावर के घर गई थीं और करीब आधे घंटे तक रहीं और बातचीत हुई। उल्लेखनीय है मल्लिकार्जुन खड़गे ने इससे पहले मंगलवार को ही शरद पवार से मुलाकात की थी। सीताराम येचुरी का भी आज शरद पवार से मिलने का कार्यक्रम है। सूत्रों के मुताबिक ममता ने राष्ट्रपति चुनाव में शरद पवार से उम्मीदवार बनने का अनुरोध किया है!

उल्लेखनीय है कि बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष को एकजुट करके भाजपा के खिलाफ एक मजबूत उम्मीदवार देने की कोशिश कर रही हैं। अगर विपक्ष भाजपा उम्मीदवार के खिलाफ एकजुट होकर उम्मीदवार खड़ा कर सकता है तो 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले यह एक बड़ा कदम होगा। इसके लिए तृणमूल नेता ने बुधवार को 22 विपक्षी नेताओं को दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में बैठक के लिए आमंत्रित किया। बैठक में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, जयराम रमेश और रणदीप सुरजेवाला के शामिल होने की उम्मीद है।

तृणमूल सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई बिजयन, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान बैठक में शामिल हो सकते हैं। इन 8 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के अलावा जिन अन्य नेताओं को ममता के पत्र मिले हैं उनमें लालू प्रसाद यादव, डी राजा, सीताराम येचुरी, अखिलेश यादव, शरद पवार, एचडी देवेगौड़ा, फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और सुखबीर सिंह बादल शामिल हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one + twelve =