कोरोना के मामले बढ़ने की स्थिति से निपटने के लिए तैयार : केजरीवाल

फोटो, साभार : गूगल

नयी दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि अगर राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ते हैं तो उनकी सरकार इस स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। हालांकि, केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में लॉकडाउन के चौथे चरण में कई सारी रियायतें देने के बाद भी स्थिति नियंत्रण में है।

ऑनलाइन प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू होने के बाद से कोविड-19 के करीब 3,500 मामले सामने आए हैं। केंद्र ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए 25 मई को राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी और 18 मई को इसका चौथा चरण शुरू हो गया था।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में सरकारी और निजी अस्पतालों के पास कोविड-19 मरीजों के लिए 4,500 बेड हैं और इनमें से केवल 2,000 भरे हुए हैं। कोरोना मरीजों के लिए सोमवार से निजी अस्पतालों में 2,000 नये बेड उपलब्ध होंगे।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने रविवार को कहा कि दिल्ली सरकार ने निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम जिनके पास 50 बेड या उससे अधिक की क्षमता है उन्हें निर्देश दिया कि वे कोरोना वायरस मरीजों के लिए कुल बेड क्षमता में से 20 प्रतिशत आरक्षित रखें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 3,314 कोरोना मरीजों का इलाज उनके घर में चल रहा है जबकि 2,000 अस्पताल में भर्ती हैं। दिल्ली में अब तक 13,418 मामले सामने आए हैं और इनमें से 6,540 स्वस्थ हो गए हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × three =