सामयिक परिवेश हिंदी पत्रिका का रांची में काव्य गोष्ठी का आयोजन संपन्न

रांची । सामयिक परिवेश हिंदी पत्रिका के झारखण्ड अध्याय द्वारा गुरूवार को प्रभात प्रकाशन रांची में काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया। ममता मेहरोत्रा प्रधान संपादक सह राष्ट्रीय अध्यक्ष के प्रतिनिधि के रूप में आशुतोष मेहरोत्रा ने पटना से आकर भाग लिया और कार्यक्रम की शोभा बढ़ाया। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन से हुई। सरस्वती वंदना डॉ. आकांक्षा चौधरी ने गणेश वंदना सुनीता अग्रवाल और स्वागत गीत अपनी मधुर आवाज में कल्याणी झा ने की। विशिष्ट अतिथि मानव अधिकार मिशन के प्रेसिडेंट और हाईकोर्ट के अधिवक्ता पी.के. लाला थे। इसके अलावा मोनिका एंड गैबरियल स्कूल की प्रिंसिपल डॉ. सुषमा केरकेट्टा और कामेश उपस्थित थे। अपने संबोधन मे संपादक श्याम कुंवर भारती ने पत्रिका और संस्था के कार्यक्रमों और ममता मेहरोत्रा प्रधान संपादक सह राष्ट्रीय अध्यक्ष के संदेशों को सुनाया।

काव्य पाठ करने वालों में नेत्रहीन नितिन कुमार मंडल, रंजना झा विम्मी प्रसाद वीणा, संगीता सहाय, अनुभूति, पूनम रानी तिवारी, चंद्रिका ठाकुर, देश दीप, नितेश सागर, सुनीता अग्रवाल, रेनू झा, कल्याणी झा, मधुमिता साहा, मीना बंधन, ममता मनीष सिन्हा, किरण संध्या, उर्वशी, कामेश, सरोज झारखंडी निर्दोष, नीतेश सागर उप संपादक, सुनील सिंह, नागेंद्र सिंह और श्याम कुंवर भारती ने होली और स्त्री पर अपनी कविताएं सुनाई। मंच का संचालन संध्या उर्वशी ने बखूबी निभाया।

विशिष्ट अतिथियों में पी.के. लाला ने कहा स्त्री और पुरुष का भेदभाव किसी किसी भी समाज, देश और परिवार के लिए खतरा है सभी को बराबर समझना चाहिए। डॉ. सुषमा केरकेट्टा ने झारखंडी गीत से मनोरंजन किया। कामेश जी ने अपनी गजलो से सबका मन मोह लिया। नेत्रहीन जतिन ने अपने मुक्तक और कविताओं से सभी का दिल जीत लिया। अंत में धन्यवाद ज्ञापन श्याम कुमार भारती ने अपने गीतों के माध्यम से दिया। कार्यक्रम की सफलता में प्रभात प्रकाशन के राजेश ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 − two =