वाराणसी । ज्योतिष शास्त्र में मोती को एक महत्वपूर्ण रत्न माना गया है। मोती चंद्रमा का रत्न बताया गया है। ज्योतिष शास्त्र में चंद्रमा को मन का कारक माना गया है। मनुष्य का यदि मन अच्छा नहीं हो तो उसे किसी भी कार्य में सफलता नहीं मिल सकती है। मन कमजोर होने से प्रतिभाशाली व्यक्ति भी अपनी प्रतिभा का पूर्ण लाभ नहीं उठा पता है। मोती रत्न मन की शक्ति को तो बढ़ाता ही है साथ ही साथ कई अन्य प्रकार की बीमारियों को भी दूर करने की क्षमता रखता है। आइए जानते हैं इस करामती रत्न के फायदे…

क्या होता है मोती धारण करने से?
1. मोती पहनने से मन शांत होता है और तनाव पूरी तरह से घट जाता है।

2. मोती नींद को दुरुस्त करता है अतः जिन लोगों को अनिद्रा की समस्या रहती है, उनके लिए मोती अति लाभकारी साबित होता है। मोती पहनने से आत्मिक भय दूर होता है और मन प्रसन्न होता है।

3. मोती आर्थिक रूप से भी बहुत अच्छा होता है। इसे पहनने से फाइनेंशियल कंडीशन काफी बेहतर हो जाती है।

4. जो लोग स्वास्थ्य संबंधी कार्यक्षेत्र से जुड़े हैं, उनके लिए मोती गुडलक का काम करता है।

5. मोती यदि आपके ग्रहों के अनुकूल न हो तो यह व्यक्ति के मानसिक दशा को प्रभावित करता है। ऐसा व्यक्ति गंभीर अवसाद और तनाव की समस्या का शिकार हो सकता है।

6. यदि मोती व्यक्ति के लिए नुकसानदेह है तो यह घबराहट, बेचैनी और चिड़चिड़ापन बढ़ाता है और हार्मोन का संतुलन भी बिगाड़ता है।

7. शुभ गुण युक्त मोती व्यक्ति को पुत्र, धन, सौभाग्य और यश प्रदान करने वाला होता है तथा यह मनुष्य के रोग, शोक को दूर करके, मनोवांछित फल देने वाला होता है।

manoj jpg
पंडित मनोज कृष्ण शास्त्री

ज्योर्तिविद वास्तु दैवज्ञ
पंडित मनोज कृष्ण शास्त्री
मो. 9993874848

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

13 − eight =