तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर । स्थानीय सामाजिक संस्था सेंट जॉन एम्बुलेंस इंडिया ब्रिगेड विंग, खड़गपुर एम्बुलेंस डिवीजन के स्वयंसेवकों ने तंबाकू के प्रभावों पर जागरूकता पैदा करने और सीपीआर पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया। अपरिहार्य परिस्थितियों के कारण कार्यक्रम में बदलाव और देरी हुई और यह आयोजन अंकारा फाउंडेशन परिसर, तालबागीचा में किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन कमल घोष (बादल दा) के विशेष गीत द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए अंकुर फाउंडेशन तालबागीचा और सेंट जॉन एम्बुलेंस खड़गपुर एम्बुलेंस डिवीजन के सभी स्वयंसेवकों ने सक्रिय रूप से योगदान दिया।

अपने संबोधन में वक्ताओं ने कहा कि हर साल दुनिया भर में लगभग 10 लाख लोग तंबाकू के कारण अपने जीवन से हाथ धो बैठते हैं। यह गंभीर बीमारियों के कारण होते हैं। बड़े पैमाने पर लोगों को जान की जोखिमों का सामना करना पड़ता है, जो मुंह और फेफड़ों के कैंसर से प्रभावित होते हैं। तम्बाकू का उपभोग हर हाल में रोका जाना चाहिए। एक छोटा परिवर्तन आपके लिए बेहतर और समाज के लिए भी बेहतरी ला सकता है जो सीधे आपके जीवन को प्रभावित करते हैं। तंबाकू और धूम्रपान ना कहना सीखना होगा। तभी हम स्वस्थ समाज की संकल्पना को साकार कर सकते हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen + fourteen =