गंभीर संकट के बावजूद होगा खड़गपुर पुस्तक मेला

तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर : कोरोना काल के गंभीर संकट के बावजूद 21 वां खड़गपुर पुस्तक मेला आयोजित होगा । अलबत्ता आगामी 9 से 17 जनवरी तक आयोजित इस पुस्तक मेले में स्वास्थ्य विधि का कठोरतापूर्वक पालन किया जाएगा । यह बात खड़गपुर पुस्तक मेला कमेटी के सचिव देवाशीष चौधरी ने कही । उन्होंने कहा कि कोरोना परिस्थिति के मद्देनजर आयोजन में कुछ कटौती और तब्दीली की गई है । लेकिन उम्मीद है कि पुस्तक प्रेमी और जन सहयोग से हम हर चुनौती का सफलतापूर्वक सामना कर पाएंगे।

कोरोना काल में खड़गपुर पुस्तक मेले के आयोजन को लेकर कुछ सप्ताह पहले तक अनिश्चितता बनी हुई थी  लेकिन कमेटी और पुस्तक प्रेमियों ने तय किया कि समस्याओं के बावजूद मेला आयोजित होगा । सोमवार को स्थानीय टाउन हाल में इसे लेकर प्रेस मीट का आयोजन किया गया । जहां कमेटी सचिव देवाशीष चौधरी के साथ ही कार्यकारी अध्यक्ष तपन पाल व साहित्यकार सुनील माझी आदि उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि 9 ले 17 जनवरी तक आयोजित इस पुस्तक मेले में इस बार बच्चों की चित्रांकन और क्विज प्रतियोगिता आयोजित नहीं होगी । मुंबई के कलाकारों का कार्यक्रम भी इस बार स्थगित रखा गया है । ताकि कोरोना काल में अत्यधिक भीड़भाड़ से बचा जा सके । वैसे भी आयोजन को लेकर कमेटी के सामने गंभीर आर्थिक संकट है ।

वाणिज्यिक संस्थान खुद संकट में है लिहाजा उनसे अपेक्षाकृत सहयोग नहीं मिल पा रहा। कई नामी प्रकाशक भी स्टॉल लगाने को लेकर दुविधा में है। फिर भी नियमित मेला होगा और वार्षिक कवि सम्मेलन खास कर हिंदी कवि सम्मेलन का आयोजन हर साल की तरह होगा । अनिल घोड़ाई स्मृति पुरस्कार और पुस्तक मेला पुरस्कार भी प्रदान दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मेला प्रांगण में बगैर मॉस्क के किसी को प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा और सेनिटाइजर की भी समुचित व्यवस्था की जाएगी ।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen + thirteen =