नई दिल्ली। भारत की अर्थव्यवस्था ब्रिटेन को पीछे छोड़ते हुए 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है। ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था खिसककर छठे स्थान पर आ गई है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक साल 2021 की तीसरी तिमाही में भारत को ये बढ़त हासिल हुई है। ये गणना यूएस डॉलर में की गई है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के सकल घरेलू उत्पाद के आंकड़ों के अनुसार पहली तिमाही में भी भारत ने बढ़त बनाई हुई है।

भारतीय अर्थव्यवस्था का आकार नॉमिनल कैश टर्म्स में 854.7 अरब डॉलर और ब्रिटेन की 816 अरब डॉलर रहा है। भारतीय अर्थव्यवस्था के इस साल सात प्रतिशत बढ़ने का अनुमान लगाया गया है। कोरोना महामारी के कारण आई गिरावट से भारत की अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे उभर रही है।

बुधवार को जारी पहली तिमाही के जीडीपी के आंकड़ों के मुताबिक देश ने जून 2022 तक पहली तिमाही में 13.5 फीसदी की वृद्धि की है। ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था में आ रही गिरावट के कारण आने वाले प्रधानमंत्री के लिए मुश्किल हो सकती है। देश में पांच सितंबर को ब्रिटेन के कंज़रवेटिव पार्टी के सदस्य नए प्रधानमंत्री का चुनाव करेंगे। फिलहाल दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका है। इसके बाद चीन, जापान और जर्मनी का नंबर आता है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − fifteen =