हबल ने अब तक के सबसे दूर स्थित तारे की खोज की

पेरिस। हबल स्पेस टेलीस्कॉप ने अब तक का सबसे दूर का व्यक्तिगत तारा खोजा है, जिसके प्रकाश को पृथ्वी तक पहुंचने के लिए 12.9 अरब वर्ष की लगेगा।यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (ईएसए) ने यह जानकारी दी है। ईएसए ने एक बयान में कहा, “नासा / ईएसए हबल स्पेस टेलीस्कोप ने एक असाधारण नया बेंचमार्क स्थापित किया है। बिग बैंग (6.2 की रेडशिफ्ट पर) में ब्रह्मांड के जन्म के बाद अरब वर्षों से मौजूद एक तारे के प्रकाश का पता लगाया, जो अब तक का सबसे दूर का व्यक्तिगत तारा है। “उल्लेखनीय है कि हबल नासा और ईएसए की संयुक्त परियोजना है और दुनिया की सबसे बड़ी अंतरिक्ष दूरबीनों में से एक है, जिसे 1990 में लॉन्च किया गया था।

गार्सेटी होंगे भारत में अमेरिका के अगले राजदूत : लॉस एंजिल्स के मेयर एरिक गार्सेटी भारत में अमेरिका के अगले राजदूत होंगे। व्हाइट हाउस ने कहा है कि लॉस एंजिल्स के मेयर एरिक गार्सेटी “भारत में अमेरिका के एक उत्कृष्ट प्रतिनिधि” होंगे, लेकिन उन्हें “सीनेट में शीघ्रता से वोट” प्राप्त करना होगा। व्हाइट हाउस की संचार निदेशक केट बेडिंगफील्ड ने कहा, “राष्ट्रपति को मेयर गार्सेटी पर भरोसा है। उनका मानना है कि वह भारत में एक उत्कृष्ट प्रतिनिधि होंगे। उन्होंने कहा, “उनका (गार्सेटी) नामांकन समिति में द्विदलीय समर्थन के साथ सर्वसम्मति से आगे बढ़ा और हम सीनेटरों के साथ जुड़े हुए है तथा उनके नामांकन के लिए द्विदलीय समर्थन अर्जित करने के लिए काम कर रहे हैं। साथ ही यह भी मानते हैं कि उन्हें सीनेट में तेजी से वोट प्राप्त करना चाहिए।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × three =