बंगाल के घाटाल में भारी जलजमाव से जनजीवन हुआ बेहाल

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के पश्चिमी मिदनापुर जिले के घाटाल के लोगों का बारिश पीछा छोड़ने का नाम नहीं ले रही है। दक्षिण बंगाल में फिलहाल बाढ़ के हालात नहीं हैं, लेकिन घाटाल के लोग बेहाल हैं। पश्चिमी मिदनापुर के घाटाल के बड़े इलाके में लगातार पांच बारिश से बाढ़ आ गई। लोग अभी भी घरों में फंसे हुए हैं। पीने के पानी की समस्या बढ़ती जा रही है। सड़कों पर अभी भी पानी भरा है और उन पर नाव तैर रही है। नाव ही उनके जीवन का आधार बन गया है।

दुर्गा पूजा के बाद भी घाटाल के लोगों को जीना मुहाल है। घाटाल में पिछले कुछ दिनों में जलस्तर एक बार फिर बढ़ गया है। स्थानीय लोगों के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश से पूरा इलाका जलमग्न हो गया है। घाटाल प्रखंड और दासपुर समेत कई ग्राम पंचायत क्षेत्र फिर से जलमग्न हो गए है। प्रशासन की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं।

घाटाल के लोगों का कहना है कि वे करीब चार महीने से इस तरह के पानी के दर्द से जूझ रहे हैं। वे गले और कमर के पानी पर चढ़कर रोज यात्रा करने को मजबूर हैं। घाटाल वासियों का कहना है कि इस बार वे जो बारिश देख रहे हैं और जिस हाल में जी रहे हैं, उसने पिछले एक साल के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इससे लोग परेशान हैं। कई घरों के अंदर पानी है। यहां के निवासियों का आरोप है कि प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 + thirteen =