चंदननगर : जगद्धात्री पूजा में दर्शनार्थियों को पंडालों में प्रवेश करने की अनुमति नहीं

कोलकाता : दुर्गापूजा की तरह बंगाल के चंदननगर की विश्वविख्यात जगध्दात्री पूजा में भी दर्शनार्थियों को पंडाल में प्रवेश करने की अनुमति नहीं होगी। कलकत्ता हाईकोर्ट की तरफ से जारी किए गए दिशानिर्देशों के मुताबिक ही हुगली जिले के चंदननगर में इस बार जगद्धात्री पूजा का आयोजन किया जाएगा, यानी वहां भी पूजा पंडालों में दर्शनार्थियों को प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

बता दें कि चंदननगर की जगद्धात्री पूजा अपनी आलोक सज्जा के लिए देश-दुनिया में मशहूर है। चंदननगर में जगद्धात्री प्रतिमाएं बहुत ऊंची होती हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि विशालकाय प्रतिमाएं होने के कारण 10 मीटर की दूरी से भी उनका अच्छे से अवलोकन किया जा सकेगा।

सूत्रों के मुताबिक चंदननगर पुलिस कमिश्नरेट और केंद्रीय जगद्धात्री पूजा कमेटी के पदाधिकारियों ने बैठक कर संयुक्त रूप से यह निर्णय लिया है। पूजा पंडालों से 10 मीटर पहले ही बैरिकेड लगा दिया जाएगा। ताकि लोग दूर से ही मां जगध्दात्री का दर्शन कर सकें। चंदननगर की 116 जगद्धात्री पूजा कमेटियों ने प्रतिमा की ऊंचाई सामान्य रखने की बात कही है जबकि 33 पूजा कमेटियों ने प्रतिमा की जगह इस बार कलश स्थापित कर पूजा करने का निर्णय लिया है।

 

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − two =