शोधार्थी, कलकत्ता विश्वविद्यालय  
शोधार्थी, कलकत्ता विश्वविद्यालय

मनोज कुमार रजक, कोलकाता : कुछ दिनों से मैं रामायण सीरियल देख रहा हूं, जो कि रामानंद सागर जी द्वारा निर्मित है। लॉक डाउन में टीवी पर यह सीरियल का दोबारा प्रसारण सुखदायक सिद्ध हो रहा है और देश के लोगों को भी यह कार्यक्रम बेहद पसंद आ रहा है। रामायण के हर अभिनेता की भूमिका अपने आप में महत्वपूर्ण है और सभी ने सुंदर अभिनय भी किया है। उन में से एक अभिनेता मुझे काफी दिनों से परेशान कर रखा है, जो रामायण के प्रायः हर दृश्य में या यू कहे तो हर रोज एक नये अवतार में आ जाता है। मैं रोज यही सोचता हूँ कि यह कौन है, जो हर दृश्य में नये अवतार में नजर आते है? फिर मैंने बहुत लोगों से यह पता लगाने की कोशिश भी कि आखिर यह व्यक्ति है कौन?, इसका वास्तविक नाम क्या है? पर मुझे निराशा ही हाथ लगी। इस तरह इस पात्र के विषय में जानने की इच्छा दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही गई। अंत में इस विषय को लेकर गंभीरता से जब मेरे द्वारा छानबीन की गई तो, जो कुछ मेरे हाथ लगा, वह सब अब आपके सामने है। इन महानुभाव के बारे में जो जानकारियाँ मुझे मिली, वह ज्यादातर गूगल बाबा से ही मिली। वास्तव में इन महानुभाव का वास्तविक नाम असलम खान है, जो रामायण में एक नहीं अनेक पात्रों में काम कर चुके हैं, चाहे सागर देव हों या हनुमान का गुप्तचर, केवट का सेनापति या मंत्री, या फिर अयोध्या का सेना, राक्षस और ना जाने और भी कितने किरदारों के रूप में यह काम कर चुके हैं।  असलम खान का जन्म झांसी में सन 1961 में हुआ था पिता रेलवे के कर्मचारी थे, बाद में वे और उनके परिवार के लोग मुंबई में आ गए। फिर वहीं से धीरे-धीरे उन्होंने अभिनय की शुरुआत की। मुबई में एक्टिंग के द्वारा ही वह रामानंद जी के हृदय में स्थान बनाने में सफल रहें और एक से अधिक बार रामायण में ही अनेक किरदारों को बखूबी तरीके से भूमिकाओं का निर्वाह करते आएं, जो अत्यंत प्रभावकारी भी रहा। यही कारण है कि अपनी एक्टिंग के द्वारा यह किरदार आज भी लोगों के मन में एक्टिंग का लोहा मनवा रहा हैं। वास्तव में यह किरदार यादगार है।

असलम खान वर्तमान समय में अपनी पत्नी, पुत्र और पुत्री के साथ झांसी में रह रहे हैं। ओहि झांसी में ही एक कंपनी में कार्यरत हैं। हाल में ही उनके पुत्र ( ज़िगम ), जो अभी बी. टेक. कर रहे हैं उन्होंने कहा है कि मुझे अपने पिता पर गर्व है और साथ ही साथ यह भी कहा कि यह मेरे लिए गर्व का क्षण है जिन्होंने रामायण में इतना सुंदर एक्टिंग किया। मैं बहुत भाग्यशाली हूँ कि उनका मैं पुत्र हूं।

इस तरह हम देख सकते हैं कि रामायण सीरियल में श्री राम ( अरुण गोविल ) और सीता माता  ( दीपिका) के किरदार के साथ – साथ असलम खान का भी महत्वपूर्ण भूमिका है। यही कारण है कि यह किरदार आज भी हमारे हृदय में जीवंत है। सही मायने में ऐसे ही एक्टर की आज के समय में अत्यंत आवश्यक है, जो जाति – धर्म से ऊपर उठकर अपने कर्मों पर ही ज्यादा ध्यान या महत्व देते हैं, तभी तो इतने बड़े निर्माता रामानंद जी के हृदय में असलम खान ने अपना स्थान बनाया था। असलम खान के और अन्य किरदारों के बारे में जानने के लिए देखते रहे दूरदर्शन पर रामानंद जी द्वारा निर्मित रामायण।

असलम खान अपने परिवार के साथ

 

 

 

 

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 + fifteen =