कोलकाता में बहाल हुई घरेलू विमान परिसेवा, राज्य में प्रवेश से पहले देना होगा शपथ पत्र

प्रतीकात्मक फोटो, साभार : गूगल

कोलकाता : कोरोना को फैलने से रोकने के लिए लगाए लॉकडाउन के कारण दो महीने बाद कोलकाता में घरेलू विमानों का आवागमन गुरुवार को बहाल हो गया। देशभर में घरेलू विमान संचालन 25 मई को शुरू हो गया था लेकिन कोलकाता में यह बहाल नहीं हो सका क्योंकि राज्य प्रशासन चक्रवात अम्फान के बाद राहत एवं पुनर्वास के काम में व्यस्त था।

सूत्रों ने बताया कि कोलकाता से पहला विमान 40 यात्रियों को लेकर सुबह छह बजकर पांच मिनट पर गुवाहाटी के लिए रवाना हुआ जबकि गुरुवार सुबह 122 यात्री नयी दिल्ली से यहां पहुंचे। कोलकाता हवाईअड्डे ने ट्वीट किया, ‘‘आपका स्वागत है यात्रियों। दो महीने बाद दिल्ली हवाईअड्डे से 122 यात्री कोलकाता हवाईअड्डे पहुंचे और 40 यात्री गुवाहाटी के लिए रवाना हुए।

अच्छी तरह जांच की गई और यात्रियों की चहलपहल से आबाद टर्मिनल पर नियमित रूप से साफ-सफाई की गई।’ नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के सूत्रों ने बताया कि कोलकाता से दस विमानों ने उड़ान भरा और इतनी ही संख्या में विमान शहर में उतरेंगे। उत्तर बंगाल के बागडोगरा हवाईअड्डे पर भी घरेलू विमान परिचालन बहाल होगा।

देना होगा शपथ पत्र

पश्चिम बंगाल सरकार ने हाल ही में घरेलू विमानों से राज्य में आने वाले लोगों के लिए दिशा निर्देश जारी किए। इनमें, स्वास्थ्य विभाग के एक परामर्श के अनुसार,  राज्य में आने वाले यात्रियों को शपथ पत्र देना होगा कि वे पिछले दो महीने में कोरोना से संक्रमित नहीं पाए गए। परामर्श में सोमवार को कहा गया कि यात्रियों को हवाईअड्डे पहुंचने पर स्वास्थ्य जांच भी करानी होगी।  हवाईअड्डे के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि यात्रियों को कोरोना से सुरक्षित रखने के लिए शहर के हवाईअड्डे पर सामाजिक दूरी के साथ ही लोगों के बीच बिना आपसी संपर्क के यात्रा करने के इंतजाम किए गए हैं।

 

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nine − 1 =