पुलिस के डर से घर छोड़कर फरार हैं भाजपा के तीन हजार विजयी उम्मीदवार!

कोलकाता। पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में जीत दर्ज करने वाले भारतीय जनता पार्टी के तीन हजार उम्मीदवार अभी भी घर छोड़कर फरार हैं। यह दावा पार्टी की ओर से किया गया है। नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने कहा है कि 11 हजार भाजपा उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है जिनमें से कम से कम तीन हजार अभी भी घर छोड़कर दूसरे राज्यों में छिपने को मजबूर हैं। उन्हें पार्टी की ओर से बिहार, झारखंड और असम में शरण दिया गया है ताकि पुलिस की ओर से किए जाने वाले झूठे मामलों से बच सकें। ‌

शुभेंदु ने कहा है कि तृणमूल कांग्रेस ने राज्य की 80 फ़ीसदी सीटों पर फर्जीवाड़ा, लूटपाट और धांधली कर जीत हासिल की है और जो बाकी 20 फीसदी सीटें विपक्ष के पास गई हैं उसे भी कल बल और छल से हासिल करना चाहती है। विजयी उम्मीदवारों को पुलिस फर्जी मामलों में फंसा रही है ताकि तृणमूल में चले जाएं। ऐसी घोर अंधेरगर्दी दुनिया के किसी भी दूसरे कोने में नहीं है।

उल्लेखनीय है कि पंचायत चुनाव परिणाम वाले दिन की पूर्व संध्या से ही भारतीय जनता पार्टी के कई कार्यकर्ता सपरिवार पश्चिम बंगाल की सीमा पार कर असम चले गए थे। यहां राज्य सरकार ने उनके रहने खाने की व्यवस्था की थी। हर बार चुनाव के बाद यहां विपक्षी कार्यकर्ताओं के साथ ऐसा ही होता रहा है।