तिरंगा काव्य मंच का 23वां मासिक ऑनलाइन कवि सम्मेलन एवं मुशायरा का भव्य आयोजन संपन्न

कोलकाता : 28 फरवरी, नव साहित्य त्रिवेणी के सम्पादक डॉ. कुंवर वीर सिंह मार्तण्ड एवं वरिष्ठ शायर कृष्ण कुमार दूबे की अध्यक्षता में तिरंगा काव्य मंच का 23वां मासिक ऑनलाइन कवि सम्मेलन एवं मुशायरा संपन्न हुआ। जिसका कुशल संचालन कवयित्री चंचल हरेंद्र वशिष्ट – नई दिल्ली एवं रीमा पांडे – कोलकाता ने किया। सभी रचनाकारों ने दिये गये विषय और मिसरे पर एक से बढ़कर एक काव्य सृजन एवं गजलों की प्रस्तुति दी। कवि सम्मेलन की शुरुआत रीमा पाण्डेय के सुमधुर सरस्वती वंदना से हुई। इस अवसर पर राकेश कोठारी और गजेन्द्र नाहटा सहित सभी रचनाकारों ने शुरू से अंत तक उपस्थित रहकर एक दूसरे की हौसला अफ़ज़ाई की। मार्तण्ड जी ने अपने अध्यक्षीय संबोधन में कहा कि किसी की कविता को कमतर आंँकना उचित नहीं है। सबने यथाशक्ति अपना प्रयास किया है, आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि तिरंगा काव्य मंच की छत्रछाया में हम सब काव्य प्रवाह को आगे बढ़ाते रहेंगे।

मुशायरे के अध्यक्ष कृष्ण कुमार दूबे ने तिरंगा मंच की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए कहा कि कवि सम्मेलन व मुशायरा बहुत शानदार रहा। सभी प्रतिभागियों ने अच्छी रचनाएँ प्रस्तुत की। निराला जी का संयोजन शानदार रहा। कवि सम्मेलन में रीमा पाण्डेय, दीपिका रूखमांगद, पुनीता सिंह, डॉ. निर्मला शर्मा, प्रेम शर्मा, दीपक सिंह, हीरा लाल जायसवाल, चंचल हरेंद्र वशिष्ट, डॉ. सुभाष चन्द्र शुक्ल, गजेन्द्र नाहटा, सौदामिनी खरे, तृप्ता श्रीवास्तव, राम शिरोमणि उपाध्याय पथिक, अंजु छारिया, सीमा सिंह, डॉ. संजीव धानुका, डॉ. कुंवर वीर सिंह मार्तण्ड और मुशायरे में अलका मित्तल, संतोष रज़ा।

“पुकार” गाजीपुरी, डी.पी. लहरे ‘मौज’, शैलेन्द्र मिश्रा देव, राम शिरोमणि उपाध्याय पथिक जौनपुरी, सरफ़राज़ हुसैन फ़राज़, शम्भू लाल जालान निराला, अरूण कुमार दुबे, अंजुमन मंसूरी आरज़ू, रणजीत भारती, यूनुस शेख़, ग़ज़लराज, कृष्ण कुमार दूबे, रीमा पाण्डेय, विनय सागर जायसवाल, डॉ. भागिया ख़ामोश ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम के अंत में शम्भू लाल जालान निराला ने बेहद सफल एवं कामयाब कवि सम्मेलन एवं मुशायरे को सफल बनाने के लिये सभी रचनाकारों को हार्दिक धन्यवाद ज्ञापन किये।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 − twelve =