यूएन-डब्ल्यूएचओ अभियान से जुड़ेंगे मोहन बागान और ईस्ट बंगाल

संयुक्त राष्ट्र : भारत के दो प्रमुख फुटबॉल क्लब मोहन बागान और ईस्ट बंगाल कोविड-19 महामारी के कारण विश्व भर में लोगों को सक्रिय बने रहने के लिये प्रोत्साहित करने को संयुक्त राष्ट्र (यूएन) और विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के वैश्विक अभियान में शामिल होंगे। ये दोनों भारतीय फुटबाल दुनिया भर के उनके कई क्लबों में शामिल हैं जो ‘सक्रिय बनो’ अभियान में हिस्सा लेंगे। यह अभियान विकास और शांति के लिये संयुक्त राष्ट्र अंतरराष्ट्रीय खेल दिवस पर शुरू किया गया जिसका उद्देश्य कोविड-19 के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में लोगों को घर में स्वस्थ बने रहने के लिये प्रोत्साहित करना हैं। फीफा इस अभियान में यूएन और डब्ल्यूएचओ के साथ मिलकर काम कर रहा है। यह अभियान रीयाल मैड्रिड, बार्सिलोना एफसी, लिवरपूल एफसी और मैनचेस्टर यूनाईटेड के साथ शुरू किया गया जिसमें फुटबाल प्रशंसकों से अपनी प्रतिद्वंद्विता को भुलाकर कोरोना वायरस को हराने के लिये एकजुट होने की अपील की जा रही है। इनके अलावा क्लब अमेरिका, सीडी गुआडलजारा, बीजिंग गुआन एफसी, शंघाई शेनहुआ एफसी, मोहन बागान, ईस्ट बंगाल एफसी, मेलबर्न सिटी एफसी, सिडनी एफसी, ऑकलैंड सिटी एफसी, टीम वेलिंगटन एफसी, सीए रिवर प्लेट, ओलम्पिक डी मार्सिले, टीपी मजेम्बे, सीआर फ्लेमेंगो और एसई पालमीरा भी आने वाले दिनों में इस पहल में शामिल होंगे। डब्ल्यूएचओ ने एक स्वस्थ युवा को हर दिन कम से कम 30 मिनट जबकि बच्चे को कम से कम 60 मिनट की शारीरिक गतिविधि की सलाह दी है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

8 + nineteen =