मुंबई। कई लोगों के मुँह से दुर्गंध आती है। यह दुर्गंध क्यों और कैसे आने लगती है इसका कारण समझ में नहीं आता। यह दुर्गंध हमें स्वयं महसूस नहीं होती है। इसका अहसास हमें तब होता है जब हम किसी दूसरे व्यक्ति से बात कर रहे होते हैं। हमारे मुँह से दुर्गंध आने पर सामने वाला व्यक्ति हमारा से कुछ ज्यादा दूरी पर खड़ा हो जाता है या फिर वह बात करते हुए भी अपना मुँह थोड़ा सा मोड़ लेता है। ऐसे में हमें इस बात का अहसास हो जाता है कि हमारे मुँह से दुर्गंध आ रही है। इस दुर्गंध से मुक्ति पाने के कई सारे उपाय हैं, उन्हीं में से कुछ उपायों को हम आज अपने पाठकों को बताने जा रहे हैं—

अनार के छिलकों का प्रयोग करें
99 प्रतिशत गृहणियाँ घरों में अनार का सेवन करती हैं। वे अनार को छीलने के बाद उसके छिलके को कचरा पात्र में डाल देती हैं। जबकि अनार के छिलके आपकी साँसों की बदबू को दूर करने का सबसे कारगर उपाय है। अनार के छिलकों को पानी में उबालकर उस पानी से कुल्ला करें। मुँह की बदबू कुछ ही क्षणों में दूर हो जाएगी।

तुलसी पत्तों का सेवन
तुलसी की पत्तियों को औषधीय गुणों से भरपूर माना जाता है। इन्हें चबाने से भी मुँह की बदबू को दूर किया जा सकता
है।

दाँत व जुबान को रखें साफ
सबसे पहला सुझाव सम्भव हो सके तो हर खाने के बाद दाँत साफ करें। दाँतों पर ब्रश जोर से न घिसें। इससे उन पर चढ़ी सुरक्षा की परत को नुकसान पहुंचेगा व दाँत सडऩे लगेंगे। जुबान को भी साफ करें।

खाने के बाद ब्रश करें
खाने के बाद कुल्ला करने की आदत बनाएं। इससे दाँत भी स्वस्थ रहते हैं। दाँतों के बीच फंसी गन्दगी को ब्रश की मदद से साफ करें। फ्लॉस धागे दवाखाने से लाकर प्रयोग करें।

माउथवॉश का प्रयोग करें
माउथवॉश का इस्तेमाल अवश्य करें। इससे मुँह में बनने वाले बैक्टीरिया मर जाते हैं।

इलायची व लौंग खाएँ
प्याज, लहसून के सेवन के बाद कुल्ला करके मुँह में इलायची या लौंग रख लें। सौंफ का भी सेवन कर सकते हैं।

लगातार पानी पीते रहें
दिन भर थोड़ा-थोड़ा पानी पीते रहें, इससे दाँतों में फंसे खाने के कण निकल जाते हैं।

तम्बाकू, गुटखा और पान से रहें दूर
मुँह से बदबू आने का एक सबसे बड़ा कारण तम्बाकू, गुटखा और पान खाना है। जो लोग इन चीजों को सेवन करते हैं उनके मुँह से 24 घंटे बदबू आती हैं। इन लोगों से दूसरे व्यक्ति बात करते हुए लगातार दूरी बनाकर रखते हैं। इस आदत से छुटकारा पाने का प्रयास कीजिए और अपनी साँसों को महकाइये।

आलेख में दी गई जानकारियों को लेकर हम यह दावा नहीं करते कि यह पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × four =