नई दिल्ली । उपराष्ट्रपति पद के लिए मतदान शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद भवन पहुंचकर सबसे पहले अपना वोट डाला। कई केंद्रीय मंत्री और दोनों सदनों के सदस्य भी अपना-अपना वोट डालने के लिए संसद भवन पहुंचे हैं। देश के अगले उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए मुख्य मुकाबला एनडीए उम्मीदवार जगदीप धनखड़ और विपक्षी दलों की संयुक्त उम्मीदवार मारग्रेट अल्वा के बीच हो रहा है।

उपराष्ट्रपति के चुनाव में संसद के दोनों सदनों- लोकसभा और राज्यसभा के सांसदों को वोट डालने का अधिकार रहता है। इस लिहाज से देखा जाए तो उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए संसद के दोनों सदनों के कुल मिलाकर 788 सांसद वोट डाल सकते हैं। आंकड़ों के लिहाज से देखा जाए तो एनडीए उम्मीदवार जगदीप धनखड़ का चुनाव जीतना तय माना जा रहा है, लेकिन राष्ट्रपति चुनाव की तर्ज पर ही भाजपा ज्यादा से ज्यादा सांसदों के वोट हासिल कर अपने उम्मीदवार को बड़े अंतर से जीत दिलाने की रणनीति पर काम कर रही है।

विपक्ष की एक बड़ी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने उपराष्ट्रपति चुनाव से अलग रहने का फैसला किया है तो वहीं दूसरी तरफ बीजू जनता दल और वाईएसआर के साथ ही बहुजन समाज पार्टी ने भी एनडीए उम्मीदवार का समर्थन करने की घोषणा कर धनखड़ की एक बड़ी जीत सुनिश्चित कर दी है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 + eight =