बैंक एकाउंट से रुपये उड़ाने वाले जामताड़ा गैंग के तीन सदस्य गिरफ्तार

प्रतीकात्मक फोटो, साभार : गूगल

कोलकता : दूसरों के बैंक एकाउंट से आनलाइन बैंकिंग के जरिए धोखाधड़ी से रुपये उड़ाने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को बंगाल के हुगली जिले के चन्दननगर कमिश्नरेट की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, गिरफ्तार युवकों का संबंध झारखंड के जामताड़ा गिरोह के साथ है। पुलिस इसकी तहकीकात कर रही है। चन्दननगर कमिश्नरेट के पुलिस आयुक्त हुमायूं कबीर का कहना है कि पकड़े गए तीनों युवकों के पास से कई एटीएम कार्ड, कुछ मोबाइल फोन तथा कई सिम बरामद किए गए हैं।

इस गैरकानूनी धंधे में और कौन-कौन शामिल है उसकी खोज की जा रही है। बताया गया है कि पिछ्ले एक माह से हुगली के चंदननगर, चुंचुड़ा तथा भद्रेश्वर इलाके के बैंकों में यह गिरोह सक्रिय थे। कुछ दिनों पहले चन्दननगर स्थित एक राष्ट्रीयकृत बैंक के प्रबंधक ने पुलिस को यह सूचना दी थी कि कुछ गरीब तबके के लोगों के एकाउंट में इन दिनों लाखों रुपये के लेन-देन किए जा रहे हैं।

इसी शिकायत के आधार पर चन्दननगर कमिश्नरेट के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त पलाश चन्द्र ढ़ाली के नेतृत्व में ख़ुफ़िया पुलिस की एक टीम गठित की गई। पुलिस आयुक्त हुमायूं कबीर का कहना है यह गिरोह कुछ गरीब लोगों की गरीबी का फायदा उठाकर उनके पासबुक एवं एटीएम कार्ड अपने पास रखकर उसी एकाउंट से गैरकानूनी तरीके से लाखों रुपये का लेन-देन करते थे। इसके अवज में गिरोह के सदस्य इन बैंक खातेदारों को छह से आठ हजार रुपये दिया करते थे।

दूसरों के एकाउंट से रुपये गुल करने वाले इस गिरोह के कोई एक सदस्य ने इन एकाउंट धारकों के बैंक में अपना मोबाइल नंबर भी रजिस्ट्रार करा रखा था। उसी नंबर पर ओटीपी आया करता था। बताया गया है कि पकड़े गए तीनों का तालुक झारखंड के जामताड़ा गिरोह के साथ है। दरअसल जामताड़ा गिरोह पूरे देश में ऑनलाइन धोखाधड़ी के लिए कुख्यात है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six − 4 =