बंगाल में 24 घंटे में 58 मामले, कोरोना से जंग में राज्य सरकार का बड़ा फैसला

फोटो, साभार : गूगल

कोलकाता : राज्य में बढ़ते कोरोना मामले को देखते हुए राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों में कोरोना से संक्रमित मरीजों के इलाज का सारा खर्च उठाने की घोषणा की है। राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों से कहा है कि वे कोरोना से संक्रमित लोगों का इलाज करें और इसका पूरा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी।

इसके साथ ही सरकार ने कोरोना के इलाज में सक्षम निजी अस्पतालों को ये भी निर्देश दिए हैं कि वे अपने यहां ये नोटिस चिपकाएं कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का इलाज मुफ्त में किया जाएगा। राज्य स्वास्थ्य विभाग की तरफ से इसके लिए निर्देशिका जारी की गई है।

उल्लेखनीय है कि राज्य में कोरोना वायरस के मामले अब तेजी से बढ़ रहे हैं। बीते कल शाम तक पिछले 24 घंटे में राज्य में 50 से अधिक मामलों की पुष्टि हुई है। इस प्रकार राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 300 के पार पहुंच गई है। गुरुवार को राज्य सचिवालय नवान्न में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए राज्य के मुख्य सचिव राजीव सिन्हा ने इसकी पुष्टि की।

राजीव सिन्हा ने कहा कि पिछले 24 घंटे में राज्य में कोरोना के 58 नए मामलों की पुष्टी हुई है। इस प्रकार राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 334 हो गई है। उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में 24 लोग ठीक होकर अपने घर पहुंचे हैं। वहीं राज्य में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की संख्या फिलहाल 15 ही है।

वहीं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ो की बात करें तो बंगाल में कोरोना संक्रमितों की संख्या 500 के पार पहुंच गई है। वहीं अब तक 15 की मौत हुई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसका दावा किया है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की मुताबिक पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमितों की संख्या 514 हो गई है। वहीं इसमें से 103 मरीज ठीक होकर घर लौट गए हैं। हालांकि अब तक इस संक्रमण के चलते 15 लोगों की मौत हो गई है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 1 =