कोलकाता। कोलकाता की दुर्गा पूजा दुनियाभर में प्रसिद्ध है। यूनेस्को ने भी अब कोलकाता की दुर्गा पूजा को सांस्कृतिक विरासत का दर्जा दिया है, जिसके लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने यूनेस्को का धन्यवाद दिया है। वैसे भी दुर्गा पूजा पश्चिम बंगाल का सबसे बड़ा त्योहार है, जिसका देश के लोगों को बेसब्री से इंतजार रहता है। पश्चिम बंगाल ही नहीं, बल्कि अन्य राज्यों में भी दुर्गा पूजा को धूमधाम से सेलिब्रेट किया जाता है। यही वजह है कि बंगाल सरकार 10 दिन का टूर पैकेज लाई है। ताकि हर कोई पश्चिम बंगाल की समृद्ध संस्कृति और परंपरा का आनंद उठा सकें। इस टूर पैकेज में सुंदरवन की यात्रा भी शामिल होगी।

इस बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार ने सात पैनल बनाने की योजना बनाई है, जिसमें राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के तरीके खोजने और खोजने के लिए आतिथ्य क्षेत्र के विशेषज्ञ शामिल होंगे। इस योजना में पहाड़ियों के साथ-साथ समुद्र भी शामिल होगा।  मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, सुप्रियो का लक्ष्य उन परियोजनाओं को लॉन्च करना है, जो सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों में योगदान देंगी। उनका योगदान बंगाल को पहाड़ियों, समुद्रों और जंगलों के साथ-साथ एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल के लिए वन-स्टॉप शॉप बना देगा।

उनका उद्देश्य पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नदी के किनारे पर्यटन सर्किट शुरू करना भी है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, दस दिवसीय पैकेज में दुर्गा पूजा के विभिन्न पहलुओं को शामिल किया जाएगा, जिन्हें यात्री देख सकते हैं। 15 दिन का गंगासागर पैकेज शुरू करने की बात हो रही है, जिसमें एक क्रूज टूर भी शामिल होगा। यहां, पर्यटक बाबूघाट से एक क्रूज पर सवार हो सकते हैं और विभिन्न घाटों की यात्रा कर सकते हैं और अंत में सागर द्वीप समूह तक पहुंच सकते हैं।

पैकेज में सुंदरवन की यात्रा भी शामिल होगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंत्री कहते हैं, ”देश में घरेलू पर्यटकों के प्रवाह के मामले में पांचवां (पश्चिम बंगाल) और अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों की संख्या के लिहाज से सातवां है।’ पैनल को सितंबर के अंत तक अपनी योजनाओं और विचारों को भेजने के लिए कहा गया है। इसके बाद इस टूर पैकेज को लेकर विस्तार से जानकारी दी जाएगी और इसकी कीमत के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। ताकि श्रद्धालु इसका लाभ उठा सकें।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve + fifteen =