उदयपुर । राजस्थान पुलिस ने मंगलवार दोपहर उदयपुर में दिनदहाड़े एक दर्जी का सिर काटने के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस महानिदेशक एम.एल लाथेर ने बताया कि दोनों को गिरफ्तार करने के लिए अलग-अलग टीमों को लगाया गया है। गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान उदयपुर के सूरजपोल इलाके के निवासी गोस मोहम्मद, बेटे रफीक मोहम्मद और अब्दुल जब्बार के बेटे रियाज के रूप में हुई है।

मृतक की पहचान राजसमंद जिले के भीमा कस्बे के रहने वाले कन्हैयालाल तेली (40) के रूप में हुई है, जो उदयपुर में सिलाई की दुकान चलाता था। लाथेर ने कहा कि एहतियात के तौर पर सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी गई है। इससे पहले दोपहर में कन्हैयालाल को उदयपुर में भीड़-भाड़ वाली सड़क पर उनकी दुकान के अंदर मार दिया गया था। कन्हैयालाल ने निलंबित भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा को सोशल मीडिया पर पैगंबर मुहम्मद पर उनकी विवादास्पद टिप्पणी पर समर्थन दिया था।

घटना का एक वीडियो जहां आरोपी ने हत्या की जिम्मेदारी ली थी, सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। दस दिन पहले कन्हैयालाल ने नूपुर शर्मा के पक्ष में एक सोशल मीडिया पोस्ट डाला था। तभी से एक खास समुदाय के लोग उन्हें जान से मारने की धमकी दे रहे थे। लगातार धमकियों से परेशान कन्हैयालाल ने इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के अलावा छह दिन तक अपनी दुकान भी नहीं खोली। पुलिस ने उसे कुछ दिन संभलकर रहने को कहा था।

इस बीच, उदयपुर के विभिन्न हिस्सों में कर्फ्यू लगा दिया गया है जबकि जिले भर में धारा 144 लागू कर दी गई है। अगले आदेश तक धनमंडी, घंटाघर, हाथीपोल, अंबामाता, सूरजपोल, भूपालपुरा और सवीना थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। जिले में इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं। बड़ी संख्या में लोगों के घटनास्थल के पास जमा होने के बाद नारेबाजी करने के बाद भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। मंगलवार शाम हाथीपोल इलाके से भी पुलिस को निशाना बनाकर पथराव की सूचना मिली थी। इस बीच मृतक के परिजन एसपी व आईजी के निलंबित होने तक दुकान के सामने से शव नहीं हटाने पर अड़े हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty + four =