हावड़ा में बंद रेलवे टिकट बुकिंग कार्यालय से कंप्यूटरों की चोरी, दो गिरफ्तार

कोलकाता : कोरोना महामारी की वजह से गत 23 मार्च से ही बंद पड़े हावड़ा स्टेशन के ओल्ड कंपलेक्स स्थित सबवे में अनारक्षित रेलवे टिकट बुकिंग कार्यालय में सेंधमारी कर चोरों ने कंप्यूटर के मॉनीटर, सीपीयू और की-बोर्ड पर हाथ साफ कर दिया। घटना की जानकारी मिलते ही रेल प्रशासन में हडकंप मच गया। आरपीएफ ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर उसके पास से चोरी के 6 मॉनीटर, एक सीपीयू और 2 की- बोर्ड को बरामद कर लिया है। हालांकि इस घटना को लेकर रेलवे और जिला पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए हैं।

सूत्रों के अनुसार, बीते मंगलवार को आरपीएफ और रेलवे कामर्शियल विभाग के अधिकारी लंबे समय से बंद पड़े सबवे के अंदर स्थित टिकट बुकिंग कार्यालय का निरीक्षण करने पहुंचे तो भौचक रह गए। यहां 22 नंबर टिकट काउंटर का सीसा टूटा हुआ मिला और अंदर से 6 मॉनीटर, एक सीपीयू और 2 की- बोर्ड गायब थे। चोरी की सूचना से रेलवे के आला अधिकारियों में हडकंप मच गया।

इसके बाद बुकिंग कार्यालय के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई तो एक युवक वहां आता- जाता नजर आया। इसके बाद हावड़ा नार्थ पोस्ट की आरपीएफ ने रेलवे एक्ट के संशोधित कानून के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। इसी बीच मुखबिर की सूचना पर आरपीएफ सब इंस्पेक्टर कौशल कुमार की टीम ने हावड़ा ब्रिज के पास से देवेश कुमार माली उर्फ शंकर (19) नामक युवक को गिरफ़्तार कर उसके पास से एक मॉनीटर और 2 की- बोर्ड बरामद कर लिया।

आरोपित से पूछताछ में उसने चोरी का सामान खरीदने वाले शख्स के नाम का खुलासा किया। उसने बताया कि 10,11 व 12 सितंबर को दिन में उसने चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। वह सबवे के रास्ते अंदर दाखिल हुआ था और चोरी का सामान लेकर उसी रास्ते वापस आया था। चूंकि लंबे अर्से से हावड़ा स्टेशन आने वाले सबवे के सभी गेट बंद हैं, इसलिए किसी के देख लेने का भी डर नहीं था।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 3 =